20 सेकंड पहले स्टेशन से रवाना हुई ट्रेन, जापान रेलवे ने मांगी माफी

जापान में रेलवे का संचालन करने वाली एक कंपनी ने एक ट्रेन के 20 सेकंड पहले स्टेशन से रवाना होने के कारण यात्रियों को हुई ‘अत्याधिक परेशानी’ के लिए माफी मांगी है। समय का पालन करने और अपनी शिष्टता के लिए जाना जाने वाला जापान भी इस घटना से हैरान है। टोक्यो और उसके उत्तरी उपनगरों को जोड़ने वाली सुकुबा एक्सप्रेस ट्रेन मिनामी नगरेयामा स्टेशन से 9:44:40 की बजाए 9:44:20 पर रवाना हो गई थी।

सुकुबा एक्सप्रेस कंपनी की ओर से जारी माफी में कहा गया, ‘‘यात्रियों को हुई भारी परेशानी के लिए हम बहुत अधिक माफी चाहते हैं।’’ फर्म का कहना है, हालांकि इस संबंध में किसी यात्री ने कोई शिकायत नहीं की है। इस घटना के कारण किसी यात्री की ट्रेन नहीं छूटी थी। बुलेट ट्रेन सहित जापान की रेलवे प्रणाली अपनी समयबद्धता के लिए प्रसिद्ध है। मालूम हो कि भारत ने जापान से ही बुलेट ट्रेन का सौदा किया है।

भारत की पहली हाई स्पीड बुलेट ट्रेन जो कि अहमदाबाद और मुंबई के बीच चलेगी उसपर कुल 1,10,000 करोड़ रुपए (17 बिलियन डॉलर) खर्च होंगे। यह दुनिया के 83 देशों की जीडीपी से ज्यादा है। जापान इस प्रोजेक्ट के लिए 88,000 करोड़ रुपए जो कि कुल लागत का 81 प्रतिशत है उसका वहन करेगा। यह पैसा 0.1 प्रतिशत की बयाज दर पर 50 साल के लिए दिया गया है। इसकी मदद के भारत को 15 अगस्त 2022 तक अपनी पहली बुलेट ट्रेन मिल जाएगी। उस दिन भारत की आजादी के 75 साल पूरे हो जाएंगे।