उत्तर कोरिया से बातचीत को तैयार : ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम पर उसके साथ बातचीत की संभावना को लेकर वह तैयार हैं। समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, ट्रंप ने व्हाइट हाउस में शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, "हम देख रहे हैं कि उत्तर कोरिया के साथ क्या हो सकता है। मैं यही कह सकता हूं। हम हर तरह से तैयार हैं।"

उन्होंने कहा, "यदि हम बातचीत कर सकते हैं, तो मैं हमेशा से तैयार हूं। लेकिन बातचीत के अलावा कुछ और होगा, तो मेरा यकीन करें हम उसके लिए भी तैयार हैं, जितना कि हम कभी नहीं थे।"

दो हफ्ते पहले, ट्रंप ने अपने विदेशमंत्री रेक्स टिलरसन की टिप्पणियों को नकार दिया था, जिसमें यह संकेत था कि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ सीधे तौर पर संपर्क और बातचीत के लिए तैयार है।

ट्रंप ने एक अक्टूबर को ट्वीट किया था, "मैंने अपने विदेशमंत्री रेक्स टिल्लरसन से कहा दिया कि रॉकेट मैन के साथ वार्ता की कोशिश कर वह अपना समय बर्बाद कर रहे हैं।" 

ट्रंप ने कहा, "रेक्स अपनी ऊर्जा बचाइए, जो करना है हम उसे करेंगे।"

उस ट्वीट के एक दिन बाद व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा था कि प्योंगयांग के साथ बातचीत सिर्फ वहां हिरासत में रखे गए अमेरिकियों को वापस लाने के लिए हुई है।"

उन्होंने कहा कि कि इसके अलावा, उत्तर कोरिया के साथ कोई बातचीत नहीं होगी।

ट्रंप ने प्योंगयांग को 19 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने पदार्पण भाषण में चेतावनी दी थी कि यदि जरूरत हुई तो अमेरिका एशियाई देश को नष्ट कर देगा।

संयुक्त राष्ट्र में दिए भाषण में ट्रंप ने कहा था, "अमेरिका में बहुत ताकत और धैर्य है, लेकिन अगर खुद को या उसके सहयोगियों की रक्षा करने के लिए मजबूर किया गया, तो हमारे पास उत्तर कोरिया को पूरी तरह से नष्ट करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा।"

कुछ ही समय बाद, किम ने ट्रंप को मानसिक रूप से विक्षिप्त बताया और कहा कि उन्हें उत्तर कोरिया के खिलाफ धमकी देने का खामियाजा भुगतना होगा।

एशियाई देश के विदेश मंत्री, री योंग-हो ने 22 सितंबर को न्यूयॉर्क में संवाददाताओं से कहा था कि उत्तर कोरिया प्रशांत महासागर में हाइड्रोजन बम का परीक्षण कर ट्रंप की धमकी का जवाब दे सकता है।

POPULAR ON IBN7.IN