यमन से 30,000 से ज्यादा सोमालियाई लौटे : यूएनएचसीआर

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी ने शुक्रवार को कहा कि 2015 में यमन में शुरू हुए युद्ध के बाद से 30,600 सोमाली नागरिक यमन से वापस अपने देश लौटे हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, यूएनएचसीआर ने कहा कि बड़ी संख्या में सोमाली नागरिक उनकी यमन से वापसी में सहायता के लिए उससे संपर्क कर रहे हैं। इसके लिए वे यमन में सुरक्षा चिंता और सेवाओं की कम उपलब्धता को कारण बता रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी ने एक बयान में कहा, "यूएनएचसीआर अब अपने देश वापस लौटने की सोच रहे नागरिकों को कुछ सहायता दे रही है।"

बयान में कहा गया, "2017 में यूएनएचसीआर ने 10,000 सोमाली शरणार्थियों को सहायता दी, जिन्होंने घर वापसी का रास्ता चुना है।"

यूएनएचसीआर ने कहा कि यमन में उसका मानवीय अभियान यहां रुके हुए शरणार्थियों को सहायता देता रहेगा।

यूएनएचसीआर ने कहा कि सबसे ज्यादा शरणार्थियों ने मोगादिशू को वापसी के लिए चुना। इस आशा में कि यहां सहायता और अन्य सेवाओं तक पहुंच ज्यादा आसानी से उपलब्ध होगी।