यात्री को विमान से उतारने की घटना में शामिल कर्मचारियों पर नहीं गिरेगी गाज

न्यूयॉर्क: यूनाइटेड एयरलाइंस ने मंगलवार को कहा कि वे शिकागो से लुइसविले जा रहे विमान से यात्री को खींचकर बाहर निकालने की घटना में शामिल किसी भी कर्मचारी को नौकरी से निकालने नहीं जा रहे।

गौरतलब है कि नौ अप्रैल को शिकागो से केंटकी के लुइसविले जा रहे विमान में सवार एशियाई मूल के एक शख्स को स्टाफकर्मियों ने खींचकर विमान से निकाल दिया था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यूनाइटेड एयरलाइंस के सीईओ ऑस्कर मुनोज ने इस घटना को सिस्टन की नाकामी बताते हुए कहा था कि यह घटना हमारे लिए सबक सीखने का मौका है।

यूनाइटेड एयरलाइंस अपनी नीतियों की समीक्षा कर रही है ताकि इस तरह की घटनाएं दोबारा नहीं हों।

एयरलाइंस के 13 अप्रैल को जारी बयान में कंपनी ने वादा किया है कि भविष्य में इस तरह की घटनाएं देखने को नहीं मिलेंगी। इसके साथ ही अपने प्रशिक्षण कार्यक्रमों में सुधार की समीक्षा करेंगे ताकि उनके कर्मचारी ग्राहकों को प्राथमिकता दें।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया था जिसमें 69 वर्ष के एक एशियाई अमेरिकी चिकित्सक को यूनाइटेड एयरलाइंस के स्टाफकर्मी बहुत ही हिंसक तरीके से विमान से नीचे उतार देते हैं।

  • Agency: IANS