अब गूगल अर्थ कराएगा समय यात्रा

लंदन: कभी आपका मन यह जानने का हुआ हो कि आपके दादा-दादी की शादी की रात आसमान तारों से भरा था या बादल छाए थे, या जब आपके मम्मी-पापा पहली बार नया साल मनाने किसी हिल स्टेशन गए थे तो बर्फ गिरी थी या बारिश हो रही थी। अब यह पता करना संभव है। इंग्लैंड की नॉरविच स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट एंजलिया (यूईए) के जलवायु शोधकर्ताओं ने सन् 1850 तक विश्व तापमान रिकार्ड्स तैयार किया है, जो गूगल अर्थ में उपलब्ध है।

गूगल अर्थ के इस नए एप्लीकेशन के माध्यम से उपयोगकर्ता दुनियाभर में 6,000 मौसम केंद्रों की सैर कर सकते हैं और इसके अलावे बीत चुके समय का मौसम या वार्षिक तापमान के पता कर सकते हैं।

गूगल अर्थ के इस एप्लीकेशन की अच्छी बात यह है कि गूगल के नक्शे पर किसी भी स्थान को जूम करके वहां के मौसम केंद्र का डाटाबेस देखा जा सकता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN