2017 में एप्पल की कीमत कम से कम 824 अरब डॉलर होगी : विश्लेषक

न्यूयॉर्क:  अपने महंगे प्लस मॉडलों और अपने उत्पादों की बढ़ती मांग से एप्पल इंक की कीमत कम से कम 824 अरब डॉलर होगी। विश्लेषकों ने यह अनुमान लगाया है। मार्केट वाच की सोमवार की रपट में कहा गया कि एप्पल के शेयर दूसरी तिमाही के दौरान पहले से ही 16 फीसदी चढ़े हुए हैं, लेकिन विश्लेषकों का कहना है कि इसमें अभी और वृद्धि की उम्मीद है।

कनाडा के ग्लोबल इंवेस्टमेंट बैंक आरबीसी कैपिटल मार्केट ने सोमवार को एप्पल का 12 महीनों का प्राइस टार्गेट 157 से 155 को पहले ही हटा लिया है और उसने कहा कि कंपनी के शेयर इससे बेहतर प्रदर्शन करेंगे।

इस रपट में कहा गया है कि इसके कारण एप्पल का बाजार पूंजीकरण वर्तमान के 740 अरब डॉलर से बढ़कर 824 अरब डॉलर हो जाएगा। एप्पल के शेयर 4 अप्रैल को रिकार्ड 144.77 की ऊंचाई पर पहुंच गए थे।

आरबीसी के विश्लेषक अमित दरयानानी ने अपनी मार्च तिमाही के आईफोन की बिक्री और कंपनी के राजस्व अनुमान को बढ़ाते हुए कहा कि रुझान बताते हैं कि ग्राहक एप्पल के महंगे प्लस मॉडल को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। इससे एप्पल की औसत बिक्री में वृद्धि की संभावना है।

यूएसए टूडे की एक रपट के मुताबिक, एप्पल के सहसंस्थापक स्टीव वोजनियक का मानना है कि एप्पल, गूगल और फेसबुक अभी और ज्यादा बड़ी होगी और साल 2075 तक दुनिया पर राज करेंगी।

पिछले वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही तक एप्पल के पास 246.1 अरब डॉलर की नकद पूंजी थी।

POPULAR ON IBN7.IN