रूसी जासूसों पर याहू अकांउट हैक करने का आरोप

वाशिंगटन:  अमेरिकी कानून मंत्रालय ने कथित तौर पर रूस द्वारा नियुक्त दो रूसी एफएसबी जासूसों और दो हैकर्स पर साल 2014 में करीब 50 करोड़ याहू उपभोक्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी चुराने का आरोप लगाया है। यह पहली बार है जब अमेरिकी सरकार ने रूसी अधिकारियों पर साइबर अपराध का आरोप लगाया है।

एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार को कानून मंत्रालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कार्यवाहक असिस्टेंट अटार्नी जनरल मैरी मैककॉर्ड ने कहा कि आरोपियों ने रूसी संवाददाताओं, अमेरिकी और रूसी सरकार के वित्त मंत्रालय में कार्यरत कर्मचारियों और अधिकारियों के याहू अकाउंट्स हैक किए हैं।

मैककॉर्ड ने कहा कि आरोपियों ने साइबर सुरक्षा में कार्यरत कर्मचारियों के अलावा कूटनीतिक और सैन्य कर्मचारियों के याहू अकाउंट्स भी हैक किए हैं।

याहू डाटा की मदद से आरोपी ने पीड़ितों के गूगल अकांउट और अन्य ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स भी हैक कर लिए क्योंकि पीड़ितों ने कई अकांउट्स के लिए एक ही पासवर्ड का इस्तेमाल किया था।

मैककॉर्ड ने कहा कि रूसी संघीय सुरक्षा सेवा (एफएसबी) एजेंट के आरोपियों के नाम दिमिट्री डोकुचेव और इगोर सुशिन हैं। इन दोनों अधिकारियों को साइबर अपराधों की जांच का जिम्मा सौंपा गया था।

दो अन्य आरोपी एफबीआई द्वारा वांछित एलेक्सी बेलान और मंगलवार को कनाडा से गिरफ्तार किया गया करीम बारातोव हैं।

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.