लालू यादव को मिला ममता बनर्जी का साथ

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मीडिया से रुबरू हुईं. सवालों का जवाब देने के दौरान उन्होंने लालू यादव का समर्थन किया. लालू यादव पर  1000 करोड़ रुपये की अघोषित आय  के मामले में मंगलवार को आयकर अधिकारियों ने दिल्ली और गुड़गाव सहित करीब 20 स्थानों पर छापे मारे.
 
लालू यादव ने ट्वीट करके आरोप लगाया था कि उन्हें जेल भेजने की साजिश रची जा रही है. बीजेपी ऐसा इसलिए कर रही है ताकि मैं 27 अगस्त को अपनी मेगा रैली को न कर सकूं.  लालू ने लिखा था, "बीजेपी मेरी प्रस्तावित रैली से पहले जेल भेजकर सोचती है कि मैं मेगा रैली रद्द कर दूंगा. मेरा नाम लालू है और मुझे इन पर दया आती है."  
 
छापेमारी के दौरान भी उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, "BJP में हिम्मत नही कि लालू की आवाज को दबा सके. लालू की आवाज दबाएंगे तो देशभर मे करोड़ो लालू खड़े हो जाएंगे. मै गीदड़ भभकी से डरने वाला नही हूं,"
 


एक और ट्वीट में लालू ने कहा, "ज़्यादा लार मत टपकाओ. गठबंधन अटूट है. अभी तो समान विचारधारा के और दलो को साथ जोड़ना है. मै BJP के सरकारी तंत्र और सरकारी सहयोगियो से नही डरता."

ममता बनर्जी ने आरजेडी प्रमुख लालू यादव के दो दिन पहले किए गए एक ट्वीट का जवाब दिया. उधर, लालू के ट्वीट का उत्तर देते हुए ममता बनर्जी ने मंगलवार शाम को लिखा,  "लालू जी मैं आपका आमंत्रण स्वीकार करती हूं. मैं वहां 27 अगस्त को मौजूद रहूंगी.
 


यह छापेमारी ऐसे वक्‍त हुई है जब हाल ही में बिहार बीजेपी के नेता सुशील कुमार मोदी ने लालू यादव और उनके परिवार पर जमीन घोटाले के आरोप लगाए. लालू यादव के सहयोगी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यदि बीजेपी या केंद्र सरकार के पास लालू यादव के खिलाफ सबूत हैं तो वे कार्रवाई करें.

  • Agency: IANS