बंगाल में 2019 में विधानसभा चुनाव संभव : दिलीप घोष

पश्चिम बंगाल में कानून-व्यवस्था की स्थिति में लगातार गिरावट की बात उठाते हुए भाजपा के राज्य प्रमुख दिलीप घोष ने सोमवार को कहा कि राज्य जल्द विधानसभा चुनाव की तरफ बढ़ रहा है और यह 2019 के लोकसभा चुनाव के साथ ही कराए जा सकते हैं। उन्होंने कहा, "हालत उस दिशा में जा रही है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव 2019 में हो सकते हैं।"

पश्चिम बंगाल के वर्दमान जिले में राज्य समिति की बैठक में घोष ने कहा, "जिस तरीके से टीएमसी हर पहलू पर भाजपा पर हमला कर रही है, ऐसा लगता है कि हमें 2021 तक इंतजार नहीं करना होगा। जिस तरीके से उन्होंने हमारा विरोध शुरू किया है यह संभव है कि हमें 2019 में दोबारा वोट करना पड़े।"

राज्य में 2021 में विधानसभा चुनाव होना निर्धारित है।

तृणमूल कांग्रेस ने राज्य भाजपा प्रमुख की टिप्पणी की निंदा की। तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि इस तरह के बयान सरकार और पार्टी स्तर पर चर्चा के बिना नहीं दिए जाने चाहिए।

राज्य ग्रामीण विकास मंत्री और वरिष्ठ तृणमूल नेता सुब्रत मुखर्जी ने कहा, "घोष की टिप्पणी अचानक आ गई। इस पर राजनीतिक दलों और सरकारों के बीच कोई चर्चा नहीं हुई और न ही निर्वाचन आयोग ने कोई चर्चा की।"

उन्होंने कहा, "मैं नहीं समझता कि कैसे घोष ने बिना इस मामले से जुड़े दूसरे कारकों को ध्यान में रखते हुए इस तरह की टिप्पणी की। ऐसा लगता है कि इस तरह की घोषणा के प्रभाव से वह वाकिफ नहीं हैं।"

POPULAR ON IBN7.IN