बारिश, बाढ़ से बंगाल में 50 से ज्यादा मौतें

Kolkata: People use rafts on the streets of Kolkata on Aug 2, 2015. Kolkata: People use rafts on the streets of Kolkata on Aug 2, 2015.

कोलकाता:  पश्चिम बंगाल में रविवार को विभिन्न जिलों में नौ और लोगों की मरने की खबर आने के बाद भारी बारिश और बाढ़ से होने वाली मौतों की कुल संख्या 50 से अधिक हो गई है। पुलिस के मुताबिक, रविवार को उत्तर 24 परगना के बासितहाट में बिजली गिरने से चार बच्चों की मौत हो गई, जबकि चार अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

रातभर बारिश होने से कोलकाता समेत कई जगहों पर कमजोर मकान ढह गए हैं।

बर्दवान जिले के कटवा में एक मकान ढहने के कारण दो लोगों की मौत हो गई और कोलकाता में एक मकान का एक हिस्सा गिर जाने से एक वृद्ध की मौत हो गई। मुर्शिदाबाद जिले में एक दीवार गिर जाने से दो साल के एक बच्चे की मौत हो गई। बांकुरा में भी एक व्यक्ति की मौत हुई है।



मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अधिकारियों से मुलाकात करने के बाद उत्तर बंगाल का दौरा फिलहाल रद्द कर दिया है।

ममता ने अधिकारियों से मिलने के बाद कहा, "भारी बारिश से 12 जिले में 36 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। आज तक कुल 71 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। ओडिशा और झारखंड द्वारा पानी छोड़ने से समस्या और बढ़ गई है।"

उन्होंने कहा कि मुर्शिदाबाद, हुगली, बर्दवान और हावड़ा जिले सर्वाधिक प्रभावित हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि वरिष्ठ सरकारी अधिकारी और पुलिस अधिकारियों को राहत कार्य की निगरानी का काम सौंपा गया है।

उन्होंने कहा कि 2.10 लाख हेक्टेयर से अधिक खेतों में फसल चौपट हो गई है।

ममता ने कहा, "प्रशासन की पूरी मशीनरी प्रभावितों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है और मेरा सभी राजनीतिक पार्टियों और गैर सरकारी संगठनों से अनुरोध है कि वे राहत कार्य में मदद करें।"

कोलकाता नगर निगम ने शहर के विभिन्न इलाकों से जल जमाव हटाने के लिए 300 से अधिक पंप काम पर लगाए हैं।

राज्य में रेल की पटरी कई जगहों पर डूबी हुई हैं। लगातार दूसरे दिन हवाईअड्डे की हवाईपट्टियां भी डूबी हुई हैं।

इस बीच मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि मंगलवार तक गंगा के मैदान और पश्चिम बंगाल में हिमालय के दक्षिणी हिस्से में भारी बारिश होगी।

मछुआरों को राज्य से लगे समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी गई है।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पश्चिम बंगाल सहित बाढ़ प्रभावित राज्यों के राज्यपालों को भेजे गए संदेश में कोमेन तूफान और बाढ़ के कारण हुई मौतों पर दुख जताया है।

POPULAR ON IBN7.IN