जीजेएम को धन मुहैया कराने वाला व्यवसायी गिरफ्तार

दार्जिलिंग: पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग इलाके में गतिरोध पैदा करने वाली गतिविधियों में कथित रूप से धन मुहैया कराने के आरोप में बुधवार को एक प्रतिष्ठित व्यवसायी को गिरफ्तार कर लिया गया। दार्जिलिंग के पुलिस अधीक्षक कुणाल अग्रवाल ने बताया कि खुदरा सामानों की एक प्रसिद्ध दुकान के मालिक बी.एम.गर्ग को उनके घर से गिरफ्तार किया गया है। यह गिरफ्तारी गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) और इसे धन मुहैया कराने वाले लोगों के खिलाफ पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा की जा रही कार्रवाई के तहत हुई है।

गर्ग की गिरफ्तारी के बाद शहर में सभी दुकानें और बाजार बंद हैं।

दार्जिलिंग उपप्रमंडल के अंतर्गत स्थित संगम बाजार इलाके से दो अन्य व्यवसायियों दिलीप पारिक और मंगायलाल पारिक को गिरफ्तार किया गया है।

अग्रवाल ने कहा, "गिरफ्तारी के दौरान चावल की 100 बोरियां और 1.32 लाख रुपये भी बरामद किए गए।"

केंद्र सरकार के तेलंगाना राज्य के गठन की मंजूरी दे देने के बाद जीजेएम ने जुलाई महीने से पृथक गोरखालैंड राज्य की मांग तेज कर दी है और इसके बाद से ममता बनर्जी सरकार ने इसकेखिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी।

कुछ दिन पहले अशोक पोखरियाल नाम के एक व्यक्ति को जीजेएम और इसके प्रदर्शनों के लिए धन मुहैया कराने के आरोप में कलिमपोंग से गिरफ्तार किया गया था।

बुधवार को हुई गिरफ्तारियां पोखरियाल की पूछताछ से मिली जानकारी के आधार पर की गईं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN