उत्तराखंड त्रासदी के बाद नेपाल बन सकता है तीर्थ केंद्र

पणजी: नेपाल के यात्रा एवं पर्यटन आयोजकों के मुताबिक आपदा के शिकार उत्तराखंड में तीर्थयात्रा संभव न रहने की स्थिति में प्राचीन मंदिरों की बहुलता वाला हिंदू संस्कृति से संपन्न नेपाल तीर्थयात्रियों के लिए एक विकल्प बन सकता है।

नेपाल को प्रचारित करने के लिए गोवा में आयोजित रोड शो के दौरान नेपाल की कंपनी स्नोवी हॉरिजॉन के चेयरमैन बुद्ध राज भंडारी ने आईएएनएस से कहा कि आने वाले वर्षो में उत्तराखंड में संभवत: तीर्थयात्रा नहीं हो पाएगी।

उन्होंने मंगलवार को कहा कि इस लिहाज से नेपाल भारतीय धार्मिक पर्यटन का एक अच्छा विकल्प बन सकता है।

भंडारी ने कहा, "उत्तराखंड अभी तक आपदा से जूझ रहा है और उसके फिर से खड़ा होने में समय लगेगा। इसलिए हिंदू संस्कृति और परंपराओं से संपन्न पड़ोसी देश नेपाल भारतीयों के लिए तीर्थयात्रा का बेहतर स्थल हो सकता है।"

उत्तराखंड में हाल ही में भारी वर्षा और बाढ़ के कारण तबाही मची, जिसमें हजारों लोग मारे गए और बड़े पैमाने पर विनाश हुआ।

नेपाल में हिंदू और बौद्ध धर्म से संबंधित कई महत्वपूर्ण तीर्थस्थल और प्रसिद्ध मंदिर हैं।

नेपाल पर्यटन बोर्ड (एनटीबी) के साथ ही नेपाल यात्रा एवं पर्यटन एजेंटों के संघ (एनएटीटीए) भारत में प्रचार करने के लिए आए हुए हैं।

POPULAR ON IBN7.IN