उत्तराखंड में बादल फटा, कुछ घर व पुल क्षतिग्रस्त

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में बंगापानी इलाके में बादल फटने के कारण एक पुल ढह गया और करीब आधा दर्जन घर मिट्टी में मिल गए। अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि कनार में बादल फटने के बाद हुई बारिश में दो दर्जन मवेशी बह गए। आपदा में क्षतिग्रस्त हुए मकानों के मलबे में लोगों के दबे होने की आशंका के चलते तलाशी की जा रही है।

उत्तराखंड के कई अन्य हिस्सों में बारिश का कहर जारी है और कई स्थानों से भूस्खलनों की खबरें मिली हैं।

बद्रीनाथ राजमार्ग लांबगढ़ में दो घंटे बाधित रहा और पिथौरागढ़ में टनकपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात कई घंटे बाधित रहा।

जोशीमठ और गोविंदघाट के बीच पिनोला में राजमार्ग का 20 मीटर से अधिक हिस्सा बारिश में बह गया, जिसके चलते हेमकुंड साहिब और बद्रीनाथ वार्षिक तीर्थयात्रा भी प्रभावित हुई है।

मुनस्यारी और धारचुला से बचाव टीमों को रवाना किया गया है। जिलाधिकारियों का कहना है कि क्षेत्र में हुए नुकसान का अभी पूरी तरह पता नहीं चला है।

इसी बीच, मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में देहरादून, पौड़ी, चमोली, पिथौरागढ़, नैनीताल और हरिद्वार समेत राज्य में कई स्थानों पर भारी बारिश की संभावना व्यक्त की है।

हरिद्वार में गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

POPULAR ON IBN7.IN