उत्तराखंड में दूसरे दिन भी भारी बारिश जारी

उत्तराखंड में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन भारी बारिश का दौर जारी है, जिससे सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। देहरादून और हरिद्वार सहित कई स्थानों पर स्कूल एवं कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। भारी बारिश के बाद भूस्खलन से सड़कें बाधित हो गई हैं और निचले हिस्सों में जलभराव हो गया है।

अधिकारियों के मुताबिक, बद्रीनाथ और यमुनोत्री में वार्षिक चार धाम यात्रा का मार्ग बाधित हो गया है और तीर्थयात्रियों को गौरीकुंड और सोनप्रयाग जैसे सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा गया है।

लांबागढ़ के पास बद्रीनाथ राजमार्ग को यातायात के लिए खोल दिया गया है। चमौली जिले में ही 50 से अधिक सड़कें बाधित हैं।

मुलयागांव, ब्यासी और तोताघाट के पास ऋषिकेश-बद्रीनाथ मार्ग बाधित है।

क्षेत्रीय मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह का कहना है कि अगले 48 घंटों तक बारिश का दौर जारी रहेगा।

बादल फटने से देहरादून-सहारनपुर सड़क धंस गई, जिससे यातायात बाधित हुआ।

डोइवाला, ऋषिकेश, हल्दवानी, भीमताल और देहरादून जलमग्न हो गए हैं।

चंद्रभाग, रिस्पना और हसन जैसी नदियों में तेज बहाव है। बेमुंड गादेरा नदी में उफान के कारण टिहरी में ऋषिकेश-गंगोत्री राजमार्ग पर खाड़ी में लोगों को आगे जाने से रोक दिया गया है।

बीते 24 घंटों के दौरान नैनीताल में 150 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

POPULAR ON IBN7.IN