उत्तराखंड : पर्यावरण संरक्षण में गायत्री परिवार के साथ है सरकार

हरिद्वार:  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड के विकास में गायत्री परिवार से सहयोग के लिए शांतिकुंज पहुंचकर गायत्री परिवार प्रमुखद्वय डॉ. प्रणव पंड्या एवं शैलदीदी से भेंट की। करीब 40 मिनट चली इस भेंट में रावत ने देवभूमि के विकास के साथ निर्मल गंगा जन अभियान पर बातचीत की। गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. पंड्या ने उन्हें आश्वस्त किया कि राज्य में चलाए जाने वाले प्रत्येक रचनात्मक कार्यो में गायत्री परिवार सरकार के साथ खड़ा मिलेगा। डॉ. पंड्या ने निर्मल गंगा जन अभियान एवं राज्य में पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण करने पर बल दिया। संस्था की अधिष्ठात्री शैल दीदी ने मुख्यमंत्री एवं कैबीनेट मंत्री मदन कौशिक का मंगल तिलक किया। उन्होंने गायत्री मंत्र का उपवस्त्र ओढ़ाकर एवं युग साहित्य भेंटकर उन्हें सम्मानित किया।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि समाज आज सुख एवं शांति की खोज में जगह-जगह भटकता है, जबकि शांतिकुंज में यह सहज उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि निर्मल गंगा जन अभियान एवं पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सरकार गायत्री परिवार के साथ मिलकर कार्य करेगी।

इस अवसर पर देवसंस्कृति विश्वविद्यालय (देसंविवि) के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या ने जीवन विद्या के आलोक केंद्र के रूप में स्थापित देसंविवि के विभिन्न पाठ्यक्रमों के साथ युवाओं के चहुंमुखी विकास की दिशा में चलाए जा रहे अनेक रचनात्मक कार्यक्रमों से अवगत कराया।

इस दौरान मुख्यमंत्री रावत ने 1926 से सतत प्रज्वलित सिद्ध अखंड दीपक के दर्शन किए तथा ऋषियुग्म की पावन समाधि में पुष्पांजलि अर्पित कर देवभूमि के विकास हेतु प्रार्थना की।

POPULAR ON IBN7.IN