जंगलों की आग में जलता उत्तराखंड, काबू करने में जुटीं कई टीमें

देहरादून: उत्तराखंड के जंगल में फैलती आग को काबू करने के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, राज्य पुलिस, वन विभाग की टीमें लगी हुई हैं। गृह मंत्रालय के मुताबिक, हालात नियंत्रण में हैं। एयरफोर्स के तीन हेलीकॉप्टर्स भी जंगल में पानी का छिड़काव कर आग बुझाने की कवायद में जुटे हैं। स्थानीय लोग भी इस काम में मदद कर रहे हैं।

भीमताल और पौड़ी में आग बुझाने पहुंची ग्यारह सदस्यों की एयरफोर्स की टीम को भारी धुएं का सामना करना पड़ा। एमआई-17 हेलीकॉप्टरों को भेजा गया था पानी फेंककर आग बुझाने के काम के लिए लेकिन वे जीरो विजिबिलिटी के चलते वापस आ गए।

हालात का जायजा लेने के लिए केंद्र की ओर से चार सदस्यीय विशेषज्ञों की एक टीम उत्तराखंड भेजी गई है, जो एक हफ्ते में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। कल गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड के शीर्ष अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा की और केंद्र की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।

करीब 2200 हेक्टेयर जंगल में लगी आग से करीब 800 गांव प्रभावित हैं। अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 15 लोग जख्मी हुए हैं। रजौरी के बथुनी और गैंबर के जंगली इलाकों में भी आग लगी है। इस साल रजौरी की जंगल में आग की यह पहली घटना है।

  • Agency: IANS