उप्र में जाली नोटों के तस्कर गिरफ्तार

लखनऊ, 16 मार्च (आईएएनएस/आईपीएन)। बांग्लादेश के रास्ते भारत में जाली मुद्रा लाने वाले दो तस्करों को एटीएस की टीम ने शनिवार को अलीगढ़ एसओजी की मदद से गिरफ्तार किया। पुलिस ने पकड़े गए तस्करों के पास से 1 लाख 25 हजार रुपये बरामद किए। 

एटीएस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, काफी दिनों से एटीएस की टीम को अलीगढ़ और उसके आसपास के जनपदों में बांग्लादेश के रास्ते लायी जा रही जाली मुद्रा की सूचना मिल रही थी। इसी सूचना के आधार पर एटीएस और एसओजी की टीम ने शनिवार को सिविल लाइंस इलाके से दो लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस को दोनों के पास से 500 के 250 जाली नोट मिले।

पूछताछ में दोनों ने अपना नाम अलीगढ़ निवासी प्रकाश और चंद्रपाल बताया। दोनों ने बताया कि जेल में उनकी मुलाकात पश्चिम बंगाल निवासी लियाकत से हुई। लियाकात जाली नोट का धंधा करता था। इसके बाद लियाकात का बेटा जब भी कभी उससे मिलने आया करता था तो वह उन लोगों को फरक्का इलाके में ले जाकर जाली नोट सप्लाई करता था।

इसी बीच दोनों आरोपियों की मुलाकात हारून नाम के व्यक्ति से हो गई। आरोपी चंद्रपाल हारून के बैंक एकाउंट में असली नोट डाल देता था और हारून गभाना और कासिमपुर पावर हाउस के पास उन लोगों को जाली नोट सप्लाई कर देता था। हारून असली 50 रुपये के बदल उन लोगों को जाली 100 की नोट दिया करता था। पुलिस अब इस धंधे से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में लग गई है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN