सीओ हत्याकांड : सीबीआई को मिली बड़ी कामयाबी, हक की रिवॉल्वर बरामद

लखनऊ, 16 मार्च (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश में प्रतापगढ़ जिले के कुंडा में पिछले दिनों हुए बहुचर्चित सीओ हत्याकांड में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को बड़ी सफलता हाथ लगी है। सीबीआई ने शहीद पुलिस अधिकारी जियाउल हक की सर्विस रिवॉल्वर को बरामद कर लिया है। मुख्य आरोपी कामता पाल के सीबीआई के सामने आत्मसमर्पण करने के कुछ घंटे बाद ही बड़ी सफलता उस समय हाथ लगी जब पाल से कड़ी पूछताछ की गई। पाल की निशानदेही पर ही सीबीआई की टीम ने गांव के आसपास गहन तलाशी अभियान चलाया। इसी दौरान टीम ने बलीपुर गांव के पास स्थित एक तालाब के पास से हक की रिवॉल्वर और गोलियों को बरामद कर अपने कब्जे में ले लिया।

इससे पूर्व हत्याकांड के मुख्य आरोपी कामता पाल ने कुंडा में स्थित सीबीआई के कैंप कार्यालय में शनिवार को करीब 12 बजे के आसपास आत्मसमर्पण कर दिया। अब सीबीआई कामता पाल से पूछताछ कर रही है। ऐसा माना जा रहा है कि पाल के आत्मसमर्पण करने के बाद बहुत सारे तथ्य सामने आ सकते हैं।

सीबीआई सूत्रों के अनुसार कामता पाल से हत्याकांड के दिन हुए पूरे घटनाक्रम का ब्यौरा लिया जा रहा है। उससे यह जानने की कोशिश की जा रही है कि हत्याकांड के दिन क्या-क्या हुआ और उसमें कौन-कौन लोग शामिल थे।

सीबीआई की टीम पिछले कई दिनों से कुंडा में ही कैंप किए हुई थी। कामता पाल की गिरफ्तारी के लिए कई जगहों पर छापेमारी की जा रही थी।

कुंडा के बलीपुर गांव में पिछले दिनों हुए तिहरे हत्याकांड में पुलिस अधिकारी जियाउल हक की हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में बलीपुर गांव के ग्राम प्रधान नन्हें यादव और उसके भाई की भी हत्या कर दी गई थी।

इस हत्याकांड में प्रतापगढ़ के बाहुबली नेता और पूर्व मंत्री राजा भैया का भी नाम सामने आया, जिसके बाद उन्हें मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा। सीबीआई ने राजा भैया के खिलाफ भी मामला दर्ज किया था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN