उत्तर प्रदेश में 26 आईपीएस अधिकारियों के तबादले, कम हो पाएगा क्राइम?

 

लखनऊ: यूपी में लगातार खराब होती कानून व्यवस्था के मद्देनजर यूपी सरकार ने लिया है बड़ा फैसला. 26 आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया गया है. एबीपी न्यूज़ ने आपको पहले ही बताया था कि ऐसा होने वाला है. सीएम योगी आदित्यनाथ कई बार कह चुके हैं कि उनकी पहली प्राथमिकता लॉ एंड ऑर्डर है. यूपी पुलिस ताबड़तोड़ एनकाउंटर भी कर रही है लेकिन फिर भी कानून व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है. इसी वजह से यूपी सरकार ने ये कदम उठाया है.

कासगंज में हुई हिंसा की गूंज पूरे देश ने सुनी है. रोजाना उत्तर प्रदेश से बड़ी संख्या में लूट, हत्या और बलात्कार की खबरें सामने आती हैं. माना जा रहा था कि योगी आदित्यनाथ के सीएम पद संभालने के बाद अपराधों में कमी आएगी क्योंकि चुनावों में बीजेपी ने सपा सरकार में होने वाले अपराध को प्रमुख मुद्दा बनाया था.

एनकाउंटर से भी नहीं रुके अपराध
योगी आदित्यनाथ ने कई बार मीडिया से बात करते हुए कहा कि अपराधी अपनी जान बचाने के लिए दूसरे राज्यों की जेलों में पनाह ले रहे हैं. उन्होंने साफ कहा कि पुलिस गोली का जवाब गोली से दे रही है. सीएम योगी ने पुलिस के हाथ खोले तो पुलिस ने एनकाउंटर्स की झड़ी लगा दी. सबसे अधिक एनकाउंटर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हुए. पुलिस अपराधियों की संख्या कम कर रही थी लेकिन अपराध कम नहीं हो रहे थे.

खास तौर पर महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों की संख्या में खासा इजाफा दर्ज किया गया. इसके अलावा लूट और हत्याओं में भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई. इसको लेकर सीएम पुलिस महकमे में परिवर्तन करना चाहते हैं. यूपी पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए भी इस बात के बारे में जानकारी दी.

 

 

 

POPULAR ON IBN7.IN