जब योगी आदित्यनाथ बोले थे- जरूरी हुआ तो ताजमहल का नाम राम महल भी कर सकते हैं

ताजमहल पिछले कुछ दिनों से खबरों के केंद्र में है। दो दिन पहले बीजेपी विधायक संगत सोम द्वारा ताजमहल को लेकर दिए गए अक्रामक बयान के बाद ताजमहल ही खबरों में छाया हुआ है। हर पार्टी इस मुद्दे पर बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही है। हालांकि ये पहली बार नहीं है जब उत्तर प्रदेश में बीजेपी के किसी नेता ने ताजमहल को लेकर इस तरह का बयान दिया हो। करीब 8 महीने पहले उत्तर प्रदेश चुनाव के समय भी एक टीवी शो पर चर्चा करते हुए योगी आदित्यनाथ ने भी ताजमहल का नाम बदले की बात कही थी। हालांकि तब वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बने थे। उन्होंने गोरखपुर में मोहल्लों के नाम बदलने पर जवाब देते हुए कहा था कि, “हमने किया है हुमायूंपुर को हनुमानपुर किया है। और भी करेंगे जो हमारे अनुकुल होगा वो करेंगे। इसके बाद योगी ने कहा कि अगर किसी विदेशी आक्रांता के द्वारा कोई ऐसा काम किया है तो ऐसा किया जाना चाहिए। इसके बाद जब पत्रकार ने उनसे कहा कि फिर आप ताजमहल को राम महल भी कर सकते हैं तो योगी बोले की क्यों नहीं करेंगे। आवश्यकता होगी तो जरूर करेंगे।

क्या कहा था संगीत सोम ने

बहुत-से लोग इस बात से चिंतित हैं कि ताजमहल को यूपी टूरिज़्म बुकलेट में से ऐतिहासिक स्थानों की सूची से हटा दिया गया… किस इतिहास की बात कर रहे हैं हम…? जिस शख्स (शाहजहां) ने ताजमहल बनवाया था, उसने अपने पिता को कैद कर लिया था… वह हिन्दुओं का कत्लेआम करना चाहता था… अगर यही इतिहास है, तो यह बहुत दुःखद है, और हम इतिहास बदल डालेंगे… मैं आपको गारंटी देता हूं…” संगीत सोम ने मुगल बादशाहों बाबर, औरंगज़ेब और अकबर को ‘गद्दार’ कहा, और दावा किया कि उनके नाम इतिहास से मिटा दिए जाएंगे।

हालांकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मुद्दे पर यू टर्न लेते हुए ताजमहल को एतिहासिक धरोहर बताया है। मंगलवार को उन्होंने इस मुदेदे पर बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मायने नहीं रखता कि ताजमहल को किसने और क्यों बनवाया। ताजमहल एक ऐतिहासिक धरोहर है। भाजपा नेता संगीत सोम के ताजमहल पर दिए गए विवादास्पद बयान के बाद मुख्यमंत्री योगी की यह टिप्पणी आई है। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में कहा, ‘यह मायने नहीं रखता कि ताज महल को किसने और क्यों बनवाया। यह भारत माता के सपूतों के खून पसीने से बना है। यह पूरी दुनिया में अपने वास्तु के लिए मशहूर है। यह एक ऐतिहासिक धरोहर है और हमारे लिए बेहद महत्त्वपूर्ण है। खासतौर पर पर्यटन की दृष्टि से यह हमारी प्राथमिकता में है और पर्यटकों को सुविधाएं व सुरक्षा मुहैया कराना हमारी जिम्मेदारी है।’

Media

POPULAR ON IBN7.IN