जाति, धर्म की सीमाओं से आजाद थे भगत सिंह : अखिलेश

शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 111वीं जयंती पर गुरुवार को समाजवादी पार्टी (सपा) ने उनको श्रद्धासुमन अर्पित किए। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भगत सिंह जाति, धर्म व संप्रदाय की सीमाओं से आजाद थे।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, "वह देश की तरुणाई के प्रतीक थे। उन्होंने ब्रिटिश साम्राज्य को हिला कर रख दिया था। उन्होंने क्रांति का जो बिगुल फूंका उसकी परिणति 1947 में भारत की आजादी में हुई। उनका बलिदान हमेशा हमें प्रेरणा देता रहेगा। भगत सिंह जाति, धर्म और संप्रदाय की सीमाओं से पूर्णतया आजाद थे।"

उन्होंने कहा कि भगत सिंह का नाम देश की आजादी के लिए कुबार्नी देने वालों में आदर और गौरव के साथ लिया जाता रहेगा।

POPULAR ON IBN7.IN