रेल मंत्री ने त्रिपुरा में नई रेल लाइन का उद्घाटन किया

 

 

अगरतला/नई दिल्ली:  रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को अगरतला से गोमती जिले के स्टेशन उदयपुर तक नई रेलवे लाइन का उद्घाटन किया। प्रभु ने इस रेलवे लाइन का उद्घाटन नई दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किया। त्रिपुरा के लोक निर्माण विभाग व स्वास्थ्य मंत्री बादल चौधरी तथा परिवहन मंत्री माणिक डे इस मौके पर अगरतला रेलवे स्टेशन पर मौजूद थे।

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) के मुख्य अभियंता हरपाल सिंह ने कहा कि उदयपुर (गोमती जिला) तक 44.76 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन अगरतला-सबरूम (114 किलोमीटर) की नई बड़ी लाइन परियोजना का हिस्सा है।

सिंह ने आईएएनएस से कहा, "अगरतला-सबरूम परियोजना की अनुमानित लागत 3,351 करोड़ रुपये है और यह मार्च 2019 तक पूरी होगी।"

अगरतला-उदयपुर रेलवे लाइन पर तीन क्रॉसिंग स्टेशन -बिशालगढ़, बिश्रामगंज तथा उदयपुर हैं और स्केरकोट में एक हॉल्ट स्टेशन है।

इस लाइन पर 58 रोड क्रॉसिंग तथा 87 छोटे-बड़े पुल हैं।

बांग्लादेश के चिटगांव बंदरगाह तक पहुंच बनाने के लिए सबरूम को रेल नेटवर्क से जोड़ा गया है।

सबरूम बांग्लादेश की सीमा से लगा त्रिपुरा का अंतिम सीमाई कस्बा है, जहां से बंदरगाह की दूरी मात्र 75 किलोमीटर है।

मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने आईएएनएस से कहा, "सबरूम तक रेलवे लाइन के विस्तार के बाद त्रिपुरा तथा समस्त पूर्वोत्तर भारत, दक्षिणपूर्व एशिया से आसानी से जुड़ जाएगा।"

त्रिपुरा के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग-8 जीवनरेखा है, जिसका विस्तार पहले ही सबरूम तक किया जा चुका है। यह अगरतला से 135 किलोमीटर दक्षिण में है।

एनएफआर के मुख्य अभियंता ने कहा, "उदयपुर तक रेलवे लाइन बिछाने का काम हमने मार्च 2017 की डेडलाइन से पहले ही पूरा कर लिया।"

अक्टूबर 2008 में छोटी लाइन का अगरतला तक विस्तार कर त्रिपुरा को भारत के रेल मैप पर लाया गया था। उसके बाद छोटी लाइन को बड़ी लाइन में तब्दील कर दिया गया।

इस बीच, रेलवे ने अगरतला को बांग्लादेश के अखौरा रेलवे स्टेशन से जोड़ने के लिए 15 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन बिछाने का कार्य शुरू कर दिया है।

POPULAR ON IBN7.IN