भाजपा के बंद से त्रिपुरा के दहलाई में जनजीवन प्रभावित

अगरतला:  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आह्वान पर आयोजित बंद के कारण बुधवार को त्रिपुरा के दहलाई जिले में सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा। पार्टी ने उसके एक स्थानीय नेता की हत्या के विरोध में बंद का आह्वान किया है। पुलिस ने कहा कि सुबह से शाम तक की हड़ताल के दौरान सरकारी कार्यालयों के सामने और बाजारों में धरना देने पर भाजपा के 200 से ज्यादा कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "अधिकांश दुकानें और बाजार बंद हैं। सरकारी कार्यालयों एवं बैंकों में उपस्थिति कम है। दहलाई जिले के अधिकांश स्कूल और शिक्षण संस्थान बंद हैं।"

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 (पहले के 44) पर वाहनों का आवागमन सामान्य बना हुआ है। यह राजमार्ग त्रिपुरा की जीवन रेखा कहा जाता है।

भाजपा के नेताओं ने आरोप लगाया कि पार्टी के युवा मोर्चा के नेता चान मोहन त्रिपुरा सोमवार की रात दहलाई जिले के गंदचारा में एक मानसिक रूप से परेशान व्यक्ति विश्वदा त्रिपुरा को देखने उसके घर गए थे।

विश्वदा ने चान मोहन पर एक लकड़ी की वस्तु से हमला किया जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष सुबाल भौमिक के नेतृत्व में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने तनावग्रस्त इलाके का दौरा किया और आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे सत्ताधारी माकपा का हाथ है।

माकपा ने एक बयान जारी कर कहा कि एक गैर राजनीतिक घटना को लेकर भाजपा राजनीति कर रही है। पार्टी को पता है कि एक मानसिक रोगी ने यह हत्या की है लेकिन फिर भी वह इसे मुद्दा बना रही है।

  • Agency: IANS