त्रिपुरा में सफल साक्षरता अभियान से सीख लेगा तेलंगाना

अगरतला:  तेलंगाना के उप मुख्यमंत्री कादियाम श्रीहरि ने पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा के तीन दिवसीय दौरे के बाद मंगलवार को कहा कि तेलंगाना में साक्षरता अभियान को सफल बनाने के लिए त्रिपुरा के मॉडल को अपनाया जाएगा। शिक्षा विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ श्रीहरि त्रिपुरा में साक्षरता की सफलता का अध्ययन करने के लिए रविवार से ही राज्य के विभिन्न गांवों तथा साक्षरता केंद्रों के दौरे पर थे। त्रिपुरा में साक्षरता दर 96.82 फीसदी तक पहुंच चुकी है और इसका लक्ष्य इसे जल्द से जल्द 100 फीसदी करना है।

तेलंगाना सरकार में शिक्षा मंत्री का भी पद अपने पा रखने वाले श्रीहरि ने हैदराबाद रवाना होने से पहले संवाददाताओं से कहा, "साक्षरता के मामले में त्रिपुरा की सफलता को देखकर मैं अविभूत हूं। सुदूरवर्ती इलाकों तथा गांवों में लोग खासकर महिलाएं व जनजाति समुदाय के लोग साक्षर होने के बाद बेहद खुश हैं।"

उन्होंने कहा, "तेलंगाना की साक्षरता दर 66 फीसदी है, जो राष्ट्रीय साक्षरता दर (74 फीसदी) से कम है। तेलंगाना पहुंचने के बाद हम साक्षरता के क्षेत्र में त्रिपुरा की सफलता पर चर्चा करेंगे और अध्ययन करेंगे। जरूरत पड़ी, तो हम राज्य (त्रिपुरा) की मदद भी लेंगे।"

त्रिपुरा में मुख्यमंत्री माणिक सरकार, शिक्षा मंत्री तपन चक्रवर्ती, वित्त एवं सूचना मंत्री भानुलाल शाहा तथा त्रिपुरा के शिक्षा विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक कर चुके श्रीहरि ने कहा कि साक्षरता रोड मैप के क्रियान्वयन के लिए सरकार त्रिपुरा से विशेषज्ञों को ला सकती है।

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.