तमिलनाडु में बंद का आंशिक असर

चेन्नई, 12 मार्च (आईएएनएस)| तमिलनाडु में द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) समर्थित एक संगठन द्वारा मंगलवार को आहूत एक दिवसीय हड़ताल का राज्य में आंशिक असर हुआ है। सड़कों पर सरकारी वाहन चल रहे हैं, जबकि कुछ दुकानें बंद हैं।

तमिल ईलम सर्पोटर्स ऑर्गनाइजेशन (टीईएसओ) ने अमेरिका द्वारा संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) में पेश किए गए श्रीलंका विरोधी प्रस्ताव का समर्थन करने की केंद्र सरकार से आग्रह किया है और इसी आग्रह के समर्थन में बंद का आह्वान किया है।

सरकारी बसें और आटो रिक्शा सड़क पर चल रहे हैं, जबकि कुछ व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद हैं।

सुबह छह बजे से 12 घंटे के लिए आहूत इस बंद के दौरान कोयम्बटूर और तिरुपुर में भी कुछ औद्योगिक ईकाइयां बंद हैं।

पुलिस के मुताबिक, डीएमके और अन्य तमिल संगठनों ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन किया है। तिरुचिरापल्ली में प्रदर्शन के दौरान डीएमके के कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है।

डीएमके अध्यक्ष एम. करुणानिधि ने पार्टी कार्यकर्ताओं को शांतिपूर्वक एवं अहिंसात्मक तरीके से बंद में हिस्सा लेने की सलाह दी है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN