राजस्थान में पेयजल बर्बाद करने वालों पर लगेगा जुर्माना

जयपुर: राजस्थान में उदयपुर जिले के एक गांव में ग्रामीणों ने पानी की बर्बादी रोकने का अनूठा तरीका ढूंढ निकाला है। ग्रामीणों ने पीने का पानी बर्बाद करने वालों पर 500 रुपये का जुर्माना लगाने का निर्णय लिया है। यह निर्णय जयपुर से करीब 300 किलोमीटर दूर गोगुंडा शहर के नजदीक भूताला गांव में वार्ड न. 4 की पंचायत ने लिया। पंचायत की उप सरपंच लीला बाई ने कहा, "पंचायत की बैठक में करीब 92 लोगों ने हिस्सा लिया, जिनमें से 39 महिलाएं थीं। इसमें पानी बर्बाद करने वालों के खिलाफ 500 रुपये का जुर्माना लगाने का निर्णय एकमत से लिया गया।"

उन्होंने बताया कि इस निर्णय के क्रियान्वयन और पानी की बर्बादी पर नजर रखने के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

लीला बाई ने कहा, "सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर नलके लगाए हैं। सभी ग्रामीण यहां से पीने का पानी लेते हैं। लेकिन यह देखने में आया है कि लोग अक्सर पानी लेकर नल बंद करना भूल जाते हैं। ऐसे में पानी नालों में बहकर बर्बाद हो जाता है।"

उन्होंने बताया कि पानी की बर्बादी रोकने के लिए जागरुकता अभियान चलाया गया, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला। इसलिए पानी बर्बाद करने वालों के खिलाफ जुर्माना लगाने का निर्णय लिया गया। इसे सख्ती से लागू किया जाएगा।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN