राजस्थान में 4 लाख लोगों के लिए पेंशन मंजूर

राजस्थान सरकार ने एक योजना के तहत पात्र लोगों के लिए चार लाख से अधिक पेंशन आवेदनों को मंजूरी दे दी है। यह योजना जरूरतमंद लोगों को सम्मानजनक जीवन जीने में मदद देने के लिए है। अधिकारियों के मुताबिक, पेंशन योजना 20 अप्रैल को शुरू की गई थी। इसके लिए पूरे राज्य में, खासकर दूर-दराज के गांवों में करीब 3,000 शिविर लगाए जा चुके हैं।

एक अधिकारी ने कहा, "इन शिविरों में अधिकारी जरूरतमंद लोगों की पहचान करते हैं। इसके बाद वे वहीं लाभार्थियों से नि:शुल्क आवेदन पत्र तथा फोटोग्राफ ले लेते हैं। सरकार उन लोगों की मदद के लिए भी प्रबंध कर रही है, जो इन शिविरों तक नहीं पहुंच पाते।"

अधिकारी ने कहा, "मुख्यमंत्री ने हमें योजना से संबंधित नियमों को आसान बनाने के निर्देश दिए हैं। लोगों को पेंशन बिना किसी भेदभाव के दी जाती है। यह राज्य में बड़े पैमाने पर पहली बार आयोजित हुई सामाजिक सुरक्षा योजना है, जिससे लोग बेहद खुश हैं।"

पेंशन योजना के पात्र लोगों में बुजुर्ग, विधवा, तलाकशुदा महिलाएं, शारीरिक रूप से अक्षम लोग, गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले तथा साढ़े तीन फुट से कम ऊंचाई के लोग शामिल हैं। वृद्ध, विधवा तथा तलाकशुदा महिलाओं के लिए पेंशन पात्रता की आय सीमा 48,000 रुपये सालाना निर्धारित की गई है।

उदयपुर जिले के कोटदा पंचायत क्षेत्र निवासी 56 वर्षीय जीजा ने कहा, "मैं बहुत खुश हूं कि मेरे आवेदन को मंजूरी दे दी गई है। मेरे पास आय का कोई स्रोत नहीं था। पेंशन के तौर पर 500 रुपये की मंजूरी मिली है, जिससे मुझे काफी मदद मिलेगी।"

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN