जियो डेटा हैक मामले में संदिग्ध की राजस्थान से गिरफ्तारी

रिलांयस जियो का डेटा हैक करने के मामले में नवी मुंबई और महाराष्ट्र साइबर पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। मामले के प्रकाश में आने के 24 घंटे के भीतर पुलिस टीम ने एक संदिग्ध को राजस्थान से गिरफ्तार किया है, जिस पर मुंबई में मुकदमा चलेगा। महाराष्ट्र साइबर पुलिस अधीक्षक बालसिंग राजपूत ने बताया कि नवी मुंबई पुलिस ने इस सिलसिले में एफआईआर दर्ज किया था, जिसके बाद साइबर शाखा के खुफिया अधिकारियों ने मुख्य संदिग्ध के बारे में जानकारियां जुटाईं।

राजपूत के मुताबिक, राजस्थान पुलिस की मदद से राज्य के चुरु जिले में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया और आगे की जांच चल रही है।

उन्होंने बताया, "महाराष्ट्र साइबर, नवी मुंबई पुलिस और रिलायंस जियो के अधिकारियों की टीम ने राजस्थान पुलिस की मदद से राज्य में कई स्थानों पर छापेमारी की, जबकि 'क्विक हील' की एक टीम जांच में तकनीकी सहयोग प्रदान कर रही है।"

संदिग्ध की पहचान चुरु के सुजानगढ़ में रहने वाले इंजीनियरिंग के छात्र इमरान चिंपा के रूप में हुई है। मुंबई पुलिस ने उसे राजस्थान से मुंबई ले जाने के लिए ट्रांजिट रिमांड मांगा है।

संदिग्ध के खिलाफ नवी मुंबई में मुकदमा चलेगा, जहां रिलायंस जियो की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है।

आरोपी ने पांच जुलाई को एक ऑननलाइन संदेश पोस्ट किया था, जिसमें उसने जियो के सिम कार्ड धारकों की निजी जानकारी होने का दावा किया था।

हालांकि कंपनी ने डेटा हैकिंग के दावों को नकारते हुए स्पष्ट किया कि ग्राहकों के डेटा सुरक्षित हैं।

POPULAR ON IBN7.IN