सीजेएम अदालत में फिल्म कलाकारों के खिलाफ आरोप तय

जोधपुर में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) की अदालत ने शनिवार को काले हिरण के अवैध के शिकार के मामले में बॉलीवुड कलाकारों-तब्बू, सोनाली बेंद्रे, नीलम और सैफ अली खान- के खिलाफ तय आरोप पढ़कर सुनाए।

इन कलाकारों पर राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग के दौरान काले हिरण का अवैध शिकार करने का आरोप है।

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सी.के. जैन ने सलमान खान को छोड़ सभी कलाकारों के खिलाफ बारी-बारी से आरोप पढ़कर सुनाए। सलमान ने इलाज के लिए देश से बाहर रहने के आधार पर अदालत से छूट मांगी थी।

सलमान के वकील हस्तीमल सारस्वत ने कहा, "सलमान आज (शनिवार) अदालत में हाजिर नहीं थे। वह देश में नहीं हैं। वह इलाज के लिए विदेश गए हैं।"

इन कलाकारों पर वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आरोप सिद्ध होने पर कलाकारों को छह साल तक के कारावास की सजा हो सकती है।

इन कलाकारों ने हालांकि आरोपों से इनकार किया है। अदालत ने मुकदमे की सुनवाई की अगली तारीख 27 अप्रैल तय की है।

1998 में जोधपुर के निकट कंकणी गांव में काले हिरण का अवैध शिकार करने के मामले में इन कलाकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। वन्यजीव अधिनियम के तहत काला हिरण एक संरक्षित जीव है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN