बरसात में बिजली जनित हादसों से बचें

जयपुर: बरसात में बिजली आपूर्ति में आने वाली बधाओं व बिजली जनित हादसों से जान-माल की हानि को बचाने के लिए उपभोक्ता कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखें तो बिजली आपूर्ति सुचारु रखने के साथ ही विद्युत-दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है। जयपुर विद्युत वितरण निगम ने लोगों को जागरूक करने के लिए एक पहल शुरू की है। निगम द्वारा विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए तथा तकनीकी कर्मचारियों को कार्य के दौरान सुरक्षा निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कार्यशालाओं व वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुरक्षा प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण 15 व 16 जुलाई को दिया जाएगा।

जयपुर विद्युत वितरण निगम के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक भास्कर ए. सावंत ने बताया कि दुर्घटना संभावित बिजली लाइनें, लटकते बिजली तार, टेढ़े पोल आदि के बारे में सातों दिन, 24 घंटे कार्यरत डिस्कॉम के कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर 18001806507 पर शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है।

इसके साथ ही बिजली बंद होने की सूचना, ट्रांसफार्मर जलने, बिजली चोरी होने या अन्य कोई तकनीकी शिकायत हो तो उसे भी कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर पर दर्ज कराया जा सकता है।

ध्यान रखने योग्य महत्वपूर्ण बिंदु :

* घर में ईएलसीबी स्विच जरूर लगवाएं, जिससे घर के बिजली तंत्र में गड़बड़ी होने पर बिजली आपूर्ति स्वत: ही बंद हो जाए और जीवन हानि को टाला जा सके।

* बिजली फीटिंग के साथ ही अर्थ वायर डाला जाना व समूचे तंत्र को घर के बाहर उपयुक्त अर्थ कर जोड़ना चाहिए और उसकी समय-समय पर जांच कराते रहना चाहिए।

* बिजली के खंभों से पशुओं को न बांधें। बिजली के खंभों को खासतौर पर बारिश के मौसम में बेवजह न छुएं।

* टूटे हुए बिजली के तार को हाथ न लगाएं और न ही किसी दूसरे व्यक्ति को ऐसा करनें दें तथा तत्काल नजदीक के बिजली कार्यालय को सूचित करें।

* यह भी ध्यान रखें कि पशुओं के तबेलों के आसपास बिजली आपूर्ति के लिए घरेलू वायरिंग खुली न हो तथा पीवीसी पाइप में उचित तरीके से स्थापित की गई हो।

* बिजली की लाइनों के नीचे कोई भी वाहन खड़ा करने से बचें।

* बिजली की लाइनों के नीचे या बिजली के खंभे के नजदीक किसी भी जानवर को बांधना एवं सामान का रखना वर्जित है।

* छत पर या आसपास से गुजरती हुई बिजली की लाइन से छेडछाड़ की कोशिश नहीं करनी चाहिए, बल्कि बिजली लाइन से पर्याप्त दूरी बनाए रहना चाहिए।

* बिजली के खंभे, वितरण बॉक्स, ट्रांसफार्मर, अर्थिग वायर आदि से छेड़छाड़ का प्रयास नहीं किया जाना चाहिए।

* बिजली के खंभे या स्टे-वायर से डोरी बांधकर उस पर कपड़े सुखाने से परहेज करना चाहिए।

* हार्वेस्टर मशीन, जेसीबी मशीन, बोरवेल मशीन, भूसा गाड़ी, ट्रैक्टर, ट्रक, बसों की छत पर बैठे व्यक्ति ऊपर से गुजर रही 33/11 केवी लाइन से सुरक्षित दूरी बनाए रखें, इसके लिए सड़क से गुजरते समय विद्युत लाइनों के प्रति विशेष सतर्क रहना चाहिए।

POPULAR ON IBN7.IN