राजस्थान: तीन लोगों से 2000 के नए नोटों में ₹4000000 बरामद

राजस्थान में दो अलग-अलग मामलों में तीन लोगों से दो हजार के नए नोटों में चालीस लाख रुपए बरामद किए गए हैं। राजस्थान पुलिस की विशेष शाखा (एसओजी) ने दो व्यवसायियों के पास से दो हजार के नए नोटों में 35 लाख रुपए बरामद किये। दोनों कथित रूप से पुराने नोट कमीशन पर बदल रहे थे। एसओजी के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों व्यवसायी एसओजी की निगरानी में पिछले कुछ दिनों से थे। एसओजी के पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने गुरुवार (15 दिसंबर) को बताया, ‘हमने कल (बुधवार, 14 दिसंबर) रात एक पुलिसकर्मी को नोट बदलवाने के लिये दोनों व्यवसायियों को पास फर्जी ग्राहक बनाकर भेजा था, दोनों व्यवसायी 25 प्रतिशत कमीशन लेकर नोट बदलने के लिये तैयार हो गये। उसके बाद दोनों व्यवसायियों को पकड़ लिया गया।’ उन्होंने बताया कि एसओजी के दल ने आरोपी व्यवसायी सुनील गुप्ता और प्रियांशु गुप्ता को विद्याधर नगर इलाके से पकड़ा और उनके कब्जे से 36 लाख रुपये बरामद किये। बरामद राशि में से 35 लाख रुपये दो हजार के नये नोट और शेष राशि 100 के नोट में थी।

एटीएस और एसओजी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने बताया कि नोट बरामदगी के मामले आगे की कार्रवाई के लिये आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया है। राजस्थान के नागौर जिले में पुलिस ने बुधवार (14 दिसंबर) को बिना हिसाब वाले 6 लाख 72 हजार रुपए बरामद किये थे। बरामद की गई राशि में से 5 लाख 68 हजार रुपए दो हजार के नये नोटों और शेष राशि सौ और पचास के नोटों के रूप में बरामद की गई थी। यह राशि अजीत मलिक नामक एक व्यक्ति से नागौर जिले के डीडवाना थाना क्षेत्र से बरामद की गई। बरामद राशि के बारे संतोषजनक जवाब नहीं देने पर राशि जब्त कर ली गई और इस संबंध में आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया। डीडवाना थानाधिकारी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि हमने राशि जब्त कर आगे की कार्रवाई के लिये आयकर विभाग को सूचित कर दिया है।

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.