राजस्थान : कोट कासिम ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के निर्माण की तैयारियां

नई दिल्ली: भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) को राजस्थान के अलवर जिले में कोट कासिम में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा बनाने के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने का काम सौंपा गया है जिससे दिल्ली-मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर (डीएमआईसी) के साथ एक प्रमुख एयरोट्रोपोलिस और व्यावसायिक केंद्र का निर्माण किया जा सकेगा। इस हवाई अड्डे का विकास कर रहे डीएमआईसी विकास निगम (डीएमआईसीडीसी) ने डीपीआर के लिए एएआई के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है जिसे इस साल के अंत तक प्रस्तुत किए जाने की उम्मीद है। मंगलवार को भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अधिकारियों ने दिल्ली और जयपुर के बीच एनएच -8 के पास भिवाड़ी से 25 किलोमीटर दूर स्थित इस परियोजना स्थल का दौरा किया। इसे नागर विमानन मंत्रालय से साइट क्लीयरेंस पहले ही प्राप्त हो चुका है।

इस हवाई अड्डे को तीन चरणों में, 24 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में विकसित किए जाने और इस पर 4,000 करोड़ रुपये की अनुमानित खर्च आने की उम्मीद है। इससे डीएमआईसी का खुशखेरा- भिवाड़ी- नीमराना औद्योगिक क्षेत्र और इस क्षेत्र में प्रस्तावित वैश्विक स्मार्ट सिटी को बढ़ावा मिलेगा।

डीएमआईसी इस स्थल को और इसके आसपास के क्षेत्र को एक एयरोट्रोपोलिस के रूप में विकसित करने की योजना बना रही है, जहां हवाई अड्डे की परिधि के साथ विविध व्यवसायों और सेवाओं को शुरू करने के अवसरों के साथ-साथ प्रमुख वैमानिक बुनियादी सुविधाएं और सेवाएं उपलब्ध होंगी।

हवाई अड्डे का निर्माण इस प्रकार किया जाएगा ताकि इसके पहले चरण के पूरा हो जाने के बाद यहां सालाना एक करोड़ यात्रियों की आवाजाही की सुविधा उपलब्ध हो और इसके पूरा होने के बाद यहां सालाना 8 करोड़ यात्रियों की आवाजाही को नियंत्रित किया जा सके। एयरोट्रोपोजिस में यात्री और माल यातायात के ठीक से प्रबंधन के अलावा, बिजनेस पार्क, होटल और वितरण केन्द्रों के साथ- साथ रखरखाव मरम्मत ओवरहाल (एमआरओ) सुविधाओं के रूप में गैर-विमानन इंफ्रास्ट्रक्च र की सुविधा उपलब्ध होंगी।

डीएमआईडीसी के सीईओ और प्रबंध निदेशक अल्केश कुमार शर्मा ने कहा, "गैर-विमानन गतिविधियों का हवाई अड्डे के राजस्व में 50 प्रतिशत योगदान हो सकता है, यही कारण है कि हम इस क्षेत्र में एक संपन्न एयरोट्रोपोलिस बनाने की योजना बना रहे हैं। यह सरकार के लिए आर्थिक विकास, रोजगार और राजस्व के लिए एक प्रमुख वाहक साबित होगा।"

कोट कासिम डीएमआईसी के साथ प्रस्तावित दो ग्रीनफील्ड हवाई अड्डों में से एक है, दूसरा ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा गुजरात के धोलेरा में है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस। 

 

  • Agency: IANS