पंजाब हमला : सीसीटीवी फुटेज में हथियारों से लैस दिखे आतंकवादी

Dinanagar: People gather near the Dinanagar police station, where the heavily-armed terrorists are holed up, on July 27, 2015. At least five people were killed and 10 injured when heavily-armed terrorists wearing army fatigues hijacked a car, drove down to Dinanagar in Punjab's Gurdaspur district, peppered the bus stand with bullets and then stormed a police station -- shattering two decades of calm in the state Dinanagar: People gather near the Dinanagar police station, where the heavily-armed terrorists are holed up, on July 27, 2015. At least five people were killed and 10 injured when heavily-armed terrorists wearing army fatigues hijacked a car, drove down to Dinanagar in Punjab's Gurdaspur district, peppered the bus stand with bullets and then stormed a police station -- shattering two decades of calm in the state

दीनानगर (पंजाब): पंजाब के गुरदासपुर जिला स्थित दीनानगर कस्बे में हुए आतंकवादी हमले को अंजाम देने वाले आतंकवादियों का मंगलवार को एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। इस फुटेज में आतंकवादी भारी हथियारों से लैस और सेना की वर्दी में इधर-उधर घूमते हुए दिख रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज में आतंकवादी बस स्टैंड पर अंधाधुंध गोलीबारी करने से पहले सोमवार तड़के 4.55 बजे दीनानगर की सड़क पर बेखौफ पैदल चलते देखे गए। बस स्टैंड के पास ही पुलिस स्टेशन स्थित है।

शहर की एक दुकान के बाहर लगे कैमरे में यह वाकया कैद हो गया था।

इस फुटेज में हालांकि आतंकवादियों का चेहरा कैद नहीं हो पाया। वे शहर में राइफल लिए आगे बढ़ते जा रहे थे और पीठ पर बैग लादे हुए थे।

एक बैंक की इमारत के बाहर लगे दूसरे सीसीटीवी कैमरे से मिली फुटेज में आतंकवादियों द्वारा मारुति 800 को कब्जे में लेने की वारदात कैद हुई है। इसी कार से वे पहले बस स्टैंड गए और फिर सुबह के 5.18 बजे के करीब पुलिस स्टेशन में दाखिल हुए।

इसी बैंक के एक कैमरे में देखा गया कि जैसे ही आतंकवादियों ने गोलीहारी शुरू की लोग जान बचाने के लिए भागने लगे।

गुरदासपुर जिला पुलिस के प्रमुख जी.एस. तूर ने कहा कि अतंकवादियों के संबंध में मिल रही सभी जानकारियां इकट्ठी की जा रही हैं और उनकी जांच की जा रही है।

तूर ने कहा, "हमें सीसीटीवी फुटेज से कुछ सुराग मिले हैं।"

आतंकवादी घटना की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने दावा करते हुए कहा कि आतंकवादियों ने सेना के जवान का वेश धारण किया और बमियाल से दीनानगर के लिए बस पकड़ी। यहां पर उन्होंने सबसे पहले अमृतसर पठानकोट रेल मार्ग स्थित पर एक पुल पर पांच जिंदा बम लगाए।

पंजाब पुलिस के एक अधिकारी ने यहां कहा, "बाद में वे शहर की ओर पैदल चले गए और एक टेंपो को रोकने का प्रयास किया। हालांकि टेंपो चालक ने वाहन नहीं रोका। इसके बाद उन्होंने मारुति कार को रोका, जिसके चालक ने यह सोचते हुए गाड़ी रोक की कि सेना के जवान तलाशी अभियान चला रहे हैं। जब उन्होंने कार चालक से कार छीनने का प्रयास किया तो चालक ने उसका विरोध किया, जिस पर आतंकवादियों ने उसे गोली मार दी। इसके बाद वे कार में सवार होकर पुलिस थाने की ओर बढ़ गए।"

सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के पास से मिले ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) उपकरण को ट्रेक किया है। जीपीएस ट्रेक से पता चला है कि आतंकवादियों ने पाकिस्तान से अपनी यात्रा शुरू की थी और रविवार को भारत की सीमा में दाखिल हुए थे।

POPULAR ON IBN7.IN