सरबजीत की अंतिम यात्रा पर उमड़े हजारों लोग

पाकिस्तान में जघन्य हमले में मारे गए भारतीय कैदी सरबजीत सिंह के अंतिम संस्कार के दौरान शुक्रवार को उनके पैतृक शहर भिखीविंड में हजारों लोग एकत्रित हुए। यहां सुबह से ही लोगों का आना शुरू हो गया था। पुलिस के लिए हजारों लोगों की इस बढ़ती भीड़ को व्यवस्थित करना काफी मुश्किल भरा रहा।

लोग चिलचिलाती धूप में पाकिस्तान और उसके नेताओं खिलाफ नारे लगाते नजर आए।

यहां हर तरफ छतों, दीवारों, खम्भों और वाहनों पर लोगों का हुजूम था।

सरबजीत का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जा रहा है। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित अन्य राजनीतिक हस्तियां मौजूद हैं।

पंजाब सरकार ने सरबजीत की मौत पर तीन दिवसीय राजकीय शोक घोषित किया है।

मुख्यमंत्री ने सरबजीत के परिवार को एक करोड़ रुपये की वित्तीय मदद देने का एलान किया है तथा उनके मुताबिक, पंजाब सरकार उनकी दोनों बेटियों को नौकरी भी देगी।

पाकिस्तान के लाहौर एवं मुल्तान विस्फोट के बाद 1990 में मौत की सजा पाए भारतीय कैदी सरबजीत पर लाहौर की कोट लखपत जेल के कैदियों ने 26 अप्रैल को जानलेवा हमला कर दिया था, जिसमें वह बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्हें लाहौर के जिन्ना अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां बुधवार देर रात उनकी मौत हो गई।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN