केजरीवाल की किसान रैली से पहले पंजाब सरकार का आदेश, कोई स्कूल बस या वैन सड़क पर न दिखाई दे

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की पंजाब के मोगा में होने वाली किसान रैली से ठीक पहले पंजाब सरकार ने आदेश जारी कर सभी स्कूल बसों को सड़क से हटने का आदेश दिया है. राज्य के सभी जिलों के शिक्षा अधिकारी ने इस बारे में आदेश जारी किया है.

आदेश में कहा गया है 'जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी निजी और एडेड स्कूल की वैन चालको को मीटिंग के लिए रविवार को दफ़्तर में बुलाया है. कोई भी वाहन सड़क पर चलता ना मिले. आदेश का पालन ना करने वालों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई होगी.'

इस पर आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा 'बादल डर गए हैं, हर घटिया हथकंडे अपना रहे हैं.' पार्टी के पंजाब प्रभारी संजय सिंह ने ट्वीट किया 'क्या बादल किसानों से डर गए हैं? आम आदमी पार्टी की रैली में बसों को रोकने के लिए देखिये बादल का हथकंडा'. उन्होंने मुक्तसर जिले के शिक्षा अधिकारी का आदेश भी पोस्ट किया.

दरअसल केजरीवाल इस रैली में किसानों के लिए पार्टी का घोषणापत्र जारी करेंगे और ये बताने की ज़रूरत नहीं कि किसानों या किसी भी रैली में ज़्यादातर लोग बसों के ज़रिये ही आते हैं जो स्कूलों में बच्चों को लाने ले जाने के काम में लगी होती हैं. ऐसे में आम आदमी पार्टी की किसान रैली में किसान कैसे पहुंचेंगे? ये एक बड़ा सवाल है, जिसको लेकर पार्टी नेताओं के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं.

 
 
x


ये रैली आम आदमी पार्टी के लिए इसलिए भी अहम है, क्योंकि हाल के हुए कई विवाद, पार्टी में फूट, पार्टी नेताओं पर लगे आरोप, पंजाबी बनाम बाहरी मुद्दे के उछलने के बाद ये केजरीवाल की पंजाब में पहली रैली है और इस रैली के माहौल, कामयाबी या नाकामयाबी पर पार्टी की आगे के रणनीति तय होनी है.

POPULAR ON IBN7.IN