बाबा की संपत्ति सील, सभी 36 डेरे सुरक्षा बलों के हवाले

डेरा सच्चा सौदा समर्थकों की हिंसा के बाद शनिवार को इनसे निपटने की बारी सेना और अर्धसैनिक बलों की थी। दिनभर हरियाणा और पंजाब में चले अभियान के दौरान सेना और अर्धसैनिक बलों ने डेरा सच्चा सौदा के 36 डेरे सील कर दिए। इस अभियान के दौरान पंजाब के पटियाला, बरनाला, बठिंडा, फिरोजपुर व हरियाणा के कुरुक्षेत्र, अंबाला, यमुनानगर, भिवानी आदि जिलों में डेरों को सील कर दिया गया। सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय पर बड़ी संख्या में इकट्ठा डेरा समर्थकों ने शनिवार को वहां से जाना शुरू कर दिया। पुलिस और प्रशासन लाउडस्पीकर से लगातार घोषणा कर डेरा के अंदर मौजूदा लोगों से परिसर खाली करने की अपील कर रहे हैं। सुबह की हीलाहवाली के बाद डेरा प्रेमी अब बड़े-बड़े जत्थों में घर रवाना होने लगे हैं। सिरसा में रविवार को सुबह छह बजे से 11 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी जाएगी।

पुलिस ने डेरा समर्थकों की गाड़ियों से भारी मात्रा में हथियार बरामद करके उनके खिलाफ देशद्रोह व अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। उधर हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है। हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने शनिवार को बताया कि 36 लोगों की मौत हुई है। इनमें से छह मौतें सिरसा में और शेष पंचकूला में हुई हैं। पुलिस ने बताया कि सभी 36 मृतकों की पहचान कर ली गई है। राज्य सरकार ने पंचकूला के पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। आधिकारिक आदेश में कहा गया है कि निलंबन के दौरान वे हरियाणा में पंचकूला के पुलिस महानिदेशक कार्यालय को रिपोर्ट करेंगे। इस बीच, डेरा प्रमुख को मिली जेड प्लस सुरक्षा वापस ले ली गई है। हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस धेसी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि डेरा प्रमुख को शुक्रवार को गिरफ्तार किए जाने के साथ ही उनकी ‘जेड-प्लस’ सुरक्षा वापस ले ली गई।  हिंसा के एक दिन के बाद राज्य सरकार ने दावा किया कि पूरे राज्य में शांति बहाल हो गई है। धेसी ने बताया कि डेरा अनुयायियों के खिलाफ देशद्रोह के दो मामले दर्ज किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पंचकूला में शुक्रवार को मारे गए लोगों में एक बच्चा और तीन महिलाएं शामिल हैं। उन्होंने दावा किया कि पूरे राज्य में शांति बनी हुई है और शुक्रवार शाम 6:30 बजे के बाद से कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राम निवास और पुलिस महानिदेशक बीएस संधू के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में धेसी ने बताया कि पुलिस ने डेरा प्रमुख के एक अनुयायी के वाहन से एके-47 रायफल और माउजर बरामद किया व एक अन्य वाहन से दो रायफल और पांच पिस्तौल और पेट्रोल बम समेत अन्य हथियार बरामद किए गए। डेरा अनुयायियों के खिलाफ आठ प्राथमिकियां दर्ज कर 524 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हालांकि शाम तक हरियाणा के विभिन्न जिलों में 34 मामले दर्ज करके 552 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। संधू ने कहा कि हरियाणा और पंजाब में डेरा के कई केंद्रों से लाठियां, छड़ें और कुल्हाड़ी जैसे हथियार बरामद किए गए। अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राम निवास ने कहा कि हम राज्य के सभी डेरा केंद्रों की तलाशी ले रहे हैं जहां हमें हथियार छिपाकर रखे होने का संदेह है।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आरसी मिश्रा ने बताया कि सभी डेरा केंद्रों की तलाशी लेने के हरियाणा सरकार के निर्देश के बाद विभिन्न जिलों में 30 से ज्यादा ‘नाम चर्चा घरों’ को सील किया गया है। उन्होंने बताया कि बंद किए गए केंद्रों में 13 अंबाला में, 10 कुरुक्षेत्र में और आठ यमुनानगर में हैं। कुरुक्षेत्र पुलिस ने कहा है कि अनुयायियों को निकालकर जिले में डेरा सच्चा सौदा के नौ समागम केंद्रों को सील कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान 2500 लाठियां और धारदार हथियार जब्त किए गए। कुरुक्षेत्र के एसपी अभिषेक गर्ग ने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान 2500 लाठियां, धारदार हथियार और 2.5 लीटर किरोसीन बरामद किया गया है।

उधर, हाई कोर्ट में विशेष सुनवाई के दौरान हरियाणा सरकार ने बताया कि पंचकूला में आठ प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं। अन्य स्थानों पर दर्ज प्राथमिकियों की जल्द जानकारी दी जाएगी। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य पुलिस ने राज्य में 98 डेरा केंद्रों का जायजा लिया है। हमें लाठियां, छड़ें, पाइप, कुल्हाड़ी और पेट्रोल बम मिले।

POPULAR ON IBN7.IN