पंजाब जेल में सभा करने को लेकर 25 पर मामला दर्ज

चंडीगढ़:  पंजाब पुलिस ने दक्षिण पश्चिम पंजाब के फाजिल्का जेल परिसर में छापेमारी के दौरान पंजाब के सत्तारूढ़ शिरोमणि अकाली दल से जुड़े नेताओं और एक जेल अधिकारी समेत कुल 25 लोगों पर मामला दर्ज किया है। पुलिस अफसरों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। ये नेता और इनके समर्थक प्रभावशाली अकाली दल नेता और शराब कारोबारी शिव लाल डोडा के साथ बैठक कर रहे थे। डोडा को इस जेल में रखा गया है।

फाजिल्का सहायक जेल अधीक्षक जश्नदीप सिंह और 24 अन्य पर पुलिस ने छापेमारी के बाद मामला दर्ज किया है। पुलिस ने इन लोगों की एक लक्जरी कार को जब्त किया है और 3.5 लाख रुपये नकद भी बरामद किए हैं।

फाजिल्का उपायुक्त ईशा कालिया ने बुधवार शाम जेल परिसर में छापेमारी की। कालिया के साथ जिला पुलिस प्रमुख नरिंदर भार्गव भी थे। कांग्रेस के एक नेता ने जेल के अंदर अवैध सभा करने की शिकायत की थी। इसके बाद निर्वाचन आयोग के निर्देश पर यह छापेमारी की गई।

जिले के अधिकारियों ने घटना को लेकर एक विस्तृत रिपोर्ट निर्वाचन आयोग को भेजी है।

डोडा, अकाली दल के इलाके के पूर्व प्रभारी रहे हैं। उन्हें अकाली दल अध्यक्ष और पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल का करीबी समझा जाता है। डोडा 11 दिसम्बर 2015 को दलित युवक भीम टैंक की जघन्य हत्या में शामिल होने के आरोप में जेल में बंद हैं।

टैंक पर फाजिल्का जिले में शराब का कारोबार करने वाले गिरोहों के बीच संघर्ष में बुरी तरह से हमला किया गया था। उसके अंग काट दिए गए जिससे उसकी मौत हो गई। डोडा के आदमी हमले में शामिल थे, जिन्हें उनके फार्महाउस में रखा गया था।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि छापा पड़ने के वक्त बैठक में डोडा को पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ाने के मुद्दे पर विचार किया जा रहा था।

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह ने इस घटना पर बादल सरकार को तुरंत बर्खास्त करने की मांग की। आम आदमी पार्टी ने भी मामले में कार्रवाई की मांग की है।

POPULAR ON IBN7.IN