ओडिशा में बर्ड फ्लू रोकने के लिए कुक्कुट को मारना शुरू किया

भुवनेश्वर:  ओडिशा सरकार ने मंगलवार को खुर्दा जिले में कुक्कुट (पोल्ट्री) को मारने का काम शुरू किया। मरे हुए चार कौए और तीन मुर्गियां मिलने के बाद जांच में उनमें बीमारी फैलाने वाले एच5एन1 वायरस मिलने के बाद यह कार्रवाई शुरू की गई है। प्रदेश की राजधानी से करीब 35 किलोमीटर दूर जिले के केरांगा जिले में एक किलोमीटर के दायरे में पोल्ट्री को मारने का काम शुरू किया गया है। इस गांव में बर्ड फ्लू वायरस की पुष्टि हुई है।

अधिकारियों ने बताया कि 10 त्वरित प्रक्रिया दलों को इस इलाके में इन्हें मारने के अभियान में लगाया गया है। इस अभियान में करीब 2500 मुर्गे-मुर्गियों को मारा जाएगा।

मत्स्य एवं पशु संसाधन विकास सचिव बिष्णुपद सेठी ने कहा कि केरांगा गांव बर्ड फ्लू का केंद्र है। हमलोगों ने जहां यह संक्रमण पाया गया है, उसके एक किलोमीटर के दायरे में कुक्कुट को मारने का निर्देश दिया है। मौजूदा मौसम में यह पहला अवसर है जब इस तरह का बर्ड फ्लू पाया गया है।

इसी तरह का प्रकोप इस क्षेत्र में वर्ष 2012 में हुआ था।

एच5एन1 वायरस को बहुत तेजी से फैलने वाला माना जाता है। यह पशुओं के साथ मनुष्यों में भी फैल सकता है। स्वास्थ्य विभाग स्थिति पर नजर रख रहा है।

स्थिति पर नजर रखने के लिए और सूचना प्रसारित करने के लिए पशुपालन विभाग निदेशालय में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि जिन कुक्कुटों को मारा जाएगा उसके बदले पोल्ट्री फार्म चलाने वालों और उनके मालिकों को मुआवजा दिया जाएगा।

Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.