दिल्ली सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस शुल्क में वृद्धि का विरोध किया

 

 

नई दिल्ली:  दिल्ली सरकार ने बुधवार को केंद्रीय परिवहन मंत्रालय द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस शुल्क में पांच गुना वृद्धि किए जाने का विरोध किया है और कहा है कि इसमें धीरे-धीरे वृद्धि की जानी चाहिए थी। दिल्ली के परिवहन मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि वह शुल्क वृद्धि पर केंद्र सरकार से बात करेंगे।

जैन ने यहां पत्रकारों से कहा, "ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने में लगने वाले शुल्क में केंद्र सरकार ने इजाफा किया है। इसमें दिल्ली सरकार का कोई हाथ नहीं है। हम इसमें इतनी अधिक वृद्धि नहीं चाहते थे।"

केंद्रीय परिवहन मंत्रालय द्वारा दिसंबर में जारी अधिसूचना के अनुसार, केंद्र सरकार ने केंद्रीय मोटर वाहन नियम में संशोधन करते हुए विभिन्न श्रेणियों के वाहनों के लिए नया ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने हेतु लगने वाले शुल्क में पांच गुना तक की वृद्धि की है।

इसके देखते हुए दिल्ली सरकार ने भी सोमवार को सभी क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (आरटीओ) को नई दरों के बारे में अधिसूचना जारी कर दी।

जैन ने कहा कि सीधे-सीधे पांच गुना शुल्क वृद्धि की बजाय केंद्र सरकार को धीरे-धीरे शुल्क बढ़ाना चाहिए था।

Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.