ग्वालियर में बच्चियां बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश

 

ग्वालियर:  मध्य प्रदेश की ग्वालियर पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो मासूम बच्चियों को अगवा कर वैश्यावृत्ति का काम करने वालों को बेचा करते थे। पुलिस ने पांच आरेापियों को गिरफ्तार कर उनके द्वारा बेची गई पांच बच्चियों को भी बरामद कर लिया है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, 29 दिसंबर को साईबाबा मंदिर क्षेत्र में टेम्पो चालक की सजगता से एक महिला को अगवा कर ले जाई जा रही बच्ची के साथ पकड़ा गया था। उसके बाद पुलिस ने महिला से पूछताछ की तो बच्चियों को अगवा कर बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश हुआ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिनेश कौयशल ने मंगलवार को आईएएनएस को बताया कि पुलिस ने बच्चियों को अगवा कर बेचने वाले गिरोह के कुल पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर सात बच्चियों को बरामद कर लिया है।

कौशल के मुताबिक, इस गिरोह के सदस्य मंदिर के आसपास भीख आदि मांगने आने वाले गरीब परिवारों की बच्चियों को निशाना बनाते थे। पहले वे बच्चियों की मां और परिवार से संबंध बनाते और फिर बच्चियों को टॉफी आदि का लालच देकर उन्हें अगवा कर लेते। यह गिरोह चार से पांच वर्ष की उम्र की बच्चियों को ही अगवा करते थे, ताकि वे जल्दी अपने परिजनों को भूल जाएं।

उन्होंने आगे बताया कि लक्ष्मी नाम की महिला इन बच्चियों का अगवा कर अपने डबरा स्थित घर ले जाती थी। वहां उसके दो बेटे इन बच्चियों की परवरिश करते और उसके बाद बच्चियों का दलालों के जरिए सौदा कर देते। यह बच्चियों 20 से 40 हजार तक में ऐसे लोगों को बेचते थे जो वैश्यवृत्ति के कारोबार में लगे हुए है।

कौशल के मुताबिक पकड़े गए पांचों आरोपियों ने पूछताछ में और भी बच्चियों को बेचने की बात स्वीकार की है।

Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.