स्विस महिला से दुष्कर्म पर मप्र विधानसभा में हंगामा, कार्यवाही स्थगित

भोपाल, 18 मार्च (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश के दतिया जिले में स्विटजरलैंड की महिला पर्यटक के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म की गूंज सोमवार को विधानसभा में सुनाई दी। कांग्रेस ने राज्य में दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं का मामला उठाते हुए गृहमंत्री के इस्तीफे की मांग की। भारी हंगामे के कारण विधानसभाध्यक्ष ईश्वर दास रोहाणी को कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित करनी पड़ी। स्विटजरलैंड से अपने पति के साथ भारत भ्रमण पर आई महिला शुक्रवार को दतिया जिले में सात दरिंदों की हवस का शिकार बन गई। पुलिस ने रविवार को पांच आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। विदेशी महिला से सामूहिक दुष्कर्म और राज्य में महिलाओं के साथ बढ़ती ज्यादती पर कांग्रेस ने सोमवार को विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता का इस्तीफा मांगा और हंगामा शुरू कर दिया।

हंगामे के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार चर्चा के लिए तैयार है, मगर कांग्रेस विधायक गृहमंत्री के इस्तीफे के बाद चर्चा की मांग पर अड़ रहे। पहले आधा घंटे और फिर दोबारा आधा घंटे के लिए विधानसभा की कार्यवाही स्थगित की गई। एक घंटे बाद बैठक शुरू होने पर भी कांग्रेस का हंगामा नहीं थमा। शोर-शराबे के बीच शासकीय कार्य पूरे किए गए।

विधानसभा में कांग्रेस के उपनेता चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी ने सरकार पर हठधर्मिता का रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि राज्य में महिलाओं पर ज्यादती हो रही है, विदेशी महिलाएं भी इससे नहीं बच पाई हैं। इस घटना से राज्य का देश ही नहीं दुनिया में सिर झुका है। यह स्थिति शर्मनाक है।

विधानसभा में कांग्रेस के सचेतक नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने कहा है कि यदि जरा भी नैतिकता है तो गृहमंत्री को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। आज राज्य में हाल यह है कि विधायकों के प्रतिनिधि तक महिलाओं पर अत्याचार की घटनाओं में शामिल हैं।

कांग्रेस विधायक काले रंग का एप्रिन पहनकर आए थे, जिस पर मध्य प्रदेश दुष्कर्म में नम्बर एक लिखा हुआ था। सदन के भीतर व बाहर कांग्रेस विधायकों ने जमकर हंगामा किया और उसके बाद वे विधानसभा के बाहर महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने बैठ गए।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN