मिजोरम में उग्रवादियों ने इंजीनियर, चालक को अगवा किया

आइजोल/अगरतला :  त्रिपुरा के एक उग्रवादी संगठन ने मिजोरम में सीमा सुरक्षा बल (बीआरओ) के एक इंजीनियर और उनके चालक को अगवा कर लिया है। मिजोरम पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को आइजोल में बताया कि उग्रवादियों ने बीआरओ के एक इंजीनियर हुकुम सिंह और उनके चालक मोहम्मद बुजुल इस्लाम को पश्चिमी मिजोरम में मामित जिले के तुईपुईबारी गांव से सोमवार देर रात अगवा कर लिया।

उन्होंने बताया कि हुकुम सिंह हरियाणा के रहने वाले हैं, जबकि बुजुल स्थानीय निवासी है। बीआरओ इंजीनियर बांग्लादेश की सीमा से सटे गांव में भारत-बांग्लादेश सीमा पर बाड़ लगाने के निरीक्षण के लिए गए थे।

पुलिस अधिकारी के अनुसार, नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (एनएलएफटी) के उग्रवादियों ने शुरुआत में 22 लोगों का अपहरण किया, जिनमें निर्माण क्षेत्र के मजदूर और स्थानीय बाशिंदे भी शामिल थे, लेकिन उनमें से 20 को बाद में छोड़ दिया।

सुरक्षा बलों के एक बड़े दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया है, जो मिजोरम की राजधानी आईजोल से 225 किलोमीटर दूर उत्तर और त्रिपुरा-मिजोरम सीमा से 25 किलोमीटर दूर है। अपहृतों को उग्रवादियों के चंगुल से मुक्त कराने के लिए खोज अभियान चलाया जा रहा है।

पुलिस को संदेह है कि एनएलएफटी अपहृतों को बांग्लादेश से सटे इलाके में ले गए हों।

मिजोरम पुलिस ने रविवार को एनएलएफटी के दो उग्रवादियों को गिरफ्तार किया था और उनके पास से हथियार बरामद किए गए थे।

त्रिपुरा के एक पुलिस अधिकारी ने अगरतला में बताया कि उग्रवादी बांग्लादेश, मिजोरम और त्रिपुरा में अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए मामित जिले को मार्ग के रूप में इस्तेमाल करते हैं।

  • Agency: IANS