मिजोरम में मतदान शुक्रवार को

आईजोल: मिजोरम में लोकसभा की एक सीट और विधानसभा उप-चुनाव के लिए मतदान शुक्रवार को कराए जाएंगे। पूर्व में नौ अप्रैल के लिए निर्धारित मतदान, राज्य के स्वयंसेवी संगठनों एवं छात्र संगठनों के बहिष्कार और तीन दिवसीय आहूत बंद के मद्देनजर 11 अप्रैल के लिए स्थगित किया गया था।

निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया, "शुक्रवार को होने वाले मतदान की पूरी तैयारियां हो चुकी हैं। कुछ निर्वाचन अधिकारी बुधवार को सुरक्षा बलों की निगरानी में अपने गंतव्य स्थानों के लिए रवाना हुए और शेष गुरुवार को रवाना होंगे।"

मिजोरम की कुल 10,91,014 आबादी में से 7,02,189 मतदाता हैं, जिनमें से 3,55,954 महिलाएं हैं। यहां एक सीट के लिए तीन उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

राज्य में 1,126 मतदान केंद्रों में 4,500 निर्वाचन अधिकारियों की नियुक्ति की गई हैं। शहरी इलाकों में स्थित 385 मतदान केंद्रों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के साथ वोटर वेरिफाइएबल पेपर ऑडिट (वीवीपीए) प्रणाली का प्रयोग किया जाएगा।

मिजोरम की एकलौती लोकसभा सीट पर निवर्तमान कांग्रेस सांसद सी.एल. रुआला, युनाइटेड डेमोकेट्रिक फ्रंट (यूडीएफ) के राबर्ट रोमाविया और आम आदमी पार्टी (आप) के एम. लालमंजुआला के बीच त्रिकोणात्मक चुनावी जंग होगी।

इसी के साथ राज्य में हरांगतुजरे विधानसभा क्षेत्र के उप-चुनाव के लिए भी शुक्रवार को मतदान कराए जाएंगे। बीते 25 नवंबर को राज्यसभा चुनाव में मुख्यमंत्री लाल थनहावला के दो सीटों पर विजयी होने के कारण खाली हरांगतुजरे सीट के लिए यहां उप-चुनाव कराए जा रहे हैं।

विधानसभा उप-चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार वनलालवंपुई चवांगथु का सामना यूडीएफ नेता एच. लालदुहाव्मा से है।

म्यांमार एवं बांग्लादेश की सीमा से लगे उत्तरपूर्वी राज्य में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष मतदान के लिए केंद्रीय अर्धसैनिक बलों और राज्य सुरक्षा बलों की छह टुकड़ियां तैनात की गई हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN