मिजोरम में खराब रहीं 10 प्रतिशत वीवीपीएटी मशीनें

आइजोल : इच्छित उम्मीदवार को वोट मिला या नहीं यह सुनिश्चित करने वाली 'वोटर वेरिफाइएबल पेपर आडिट ट्रेल' (वीवीपीएटी) मशीनों में से 10 प्रतिशत ने 25 नवंबर को मिजोरम में चुनाव के दौरान काम नहीं किया। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। मिजोरम के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी कुमार ने संवाददाताओं को बताया, "आइजोल जिले में 10 निर्वाचन क्षेत्रों में 212 वीवीपीएटी मशीनें लगाईं गईं थी, जिनमें से 21 खराब हो गईं। 11 वीवीपीएटी मशीनें तो विधानसभा चुनाव से पहले नियमित जांच में ही खराब निकलीं और अन्य 10 ने मतदान के दिन काम नहीं किया, जिन्हें तत्काल बदलना पड़ा।"

उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रोनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (इसीआईएल) ने मिजोरम चुनाव विभाग को दो सप्ताह देर से मशीन भिजवाए थे, जिनमें कुछ उपकरण टूटे हुए भी थे और इसी वजह से प्रशासन को परेशानियां उठानी पड़ी।

कुमार ने कहा, "वीवीपीएटी दरअसल एक प्रिंटर मशीन है, जो इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (इवीएम) के जुड़ा होता है। इसके माध्यम से मतदाता यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि उनका वोट अपने पसंदीदा उम्मीदवार को ही पड़ा है।"

उन्होंने कहा, "जैसे ही मतदाता वोट देता है, वीवीपीएटी मशीन के डिस्प्ले में एक छोटी सी रसीद दिखाई देती है, जिसमें उस उम्मीदवार का नाम और चुनाव चिन्ह दिखाई देता है जिसे वोट दिया गया है। तीन से चार सेकेंड के भीतर यह रसीद मशीन से खुद ब खुद लुप्त हो जाती है।"

मिजोरम चुनाव विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि इवीएम के संबंध में विवादों और अदालत में दर्ज मुकदमों को देखते हुए वीवीपीएटी मशीन का विकल्प लाया गया है, ताकि मतदाताओं को उनके वोट के बारे में सुनिश्चित किया जा सके और इवीएम मशीन में गड़बड़ी होने के संदेह को दूर किया जा सके।

वीवीपीएटी मशीनों का प्रयोग सबसे पहले नागालैंड विधानसभा चुनावों में सितंबर में किया गया और फिर मिजोरम के 10 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में किया गया।

वीवीपीएटी मशीनों को परमाणु ऊर्जा विभाग के अंतर्गत हैदराबाद की इसीआईएल ने विकसित किया है। इन मशीनों का उपयोग चार दिसंबर को आगामी दिल्ली विधानसभा चुनावों में चयनित निर्वाचन क्षेत्रों में किया जाएगा।

भारत निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि इसीआईएल के इंजीनियरों को मशीनों की जांच के लिए तीन दिसंबर को नई दिल्ली बुलाया गया है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN