मुंबई में भारी बारिश से उड़ानें प्रभावित

मुंबई, समूचे तटीय कोंकण क्षेत्र और पश्चिमी महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण सामान्य जन-जीवन प्रभावित हुआ है और उड़ानों का संचालन बाधित हो गया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

मुंबई में 19 और 20 अगस्त के बीच बाढ़ जैसे हालात के ठीक एक माह बाद दोबारा वैसे ही स्थिति देखने को मिल रहे हैं।

छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल हवाईअड्डे (सीएसएमआई) में मंगलवार शाम के बाद से बारिश, दृश्यता में कमी और तेज हवाओं के कारण उड़ानें प्रभावित हुई हैं।

शहर की जीवनरेखा बृहनमुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट बस सेवा भी देर से चल रही है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शनिवार तक महाराष्ट्र के कई हिस्सों और इसके आसपास के इलाकों में भारी बारिश का अनुमान जताया है। उन्होंने कहा कि दक्षिण मुंबई में बुधवार को भारी बारिश हो सकती है।

एहतियात के रूप में शिक्षा मंत्री विनोद तावडे ने मंगलवार देर रात मुंबई महानगरीय क्षेत्र के सभी स्कूलों और कॉलेजों को बुधवार को बंद करने की घोषणा की।

मंगलवार शाम को लगभग 30 मिनट तक उड़ानें बाधित रहीं। खराब मौसम के कारण यहां आने वाली चार उड़ानों के मार्ग में मजबूरन परिवर्तन करना पड़ा।

वहीं, इस दौरान स्पाइसजेट का एक विमान रनवे से फिसल गया और इसके पहिये गीली मिट्टी में फंस गए, जिससे उड़ानों का संचालन और भी बाधित हो गया ।

प्रमुख रनवे 9/27 में बाधा बने बोइंग विमान को निकालने और वहां से हटाने का प्रयास बुधवार को जारी है, जिसके कारण मुंबई हवाईअड्डे पर सभी उड़ानों का संचालन सुबह 5 बजे तक स्थगित करना पड़ा।

हालांकि तेज हवाओं और निम्न दृश्यता के कारण बंद किए गए दूसरे रनवे को आंशिक परिचालन के लिए फिर से खोला जा सकता है।

आईएमडी के आंकड़ों के मुताबिक, सुबह पांच बजे तक मुंबई के उपनगरीय इलाके में 275 मिलीमीटर और दक्षिण मुंबई में 191 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई।

मुंबई के प्रसिद्ध डिब्बावालाओं के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने कहा कि बारिश में फंसने की आशंका को देखते हुए नियमित 2,00,000 टिफिन बॉक्स डिलीवरी सेवाओं को बुधवार को रद्द कर दिया गया है।

बीएमसी आपदा नियंत्रण ने कहा कि सुबह सात बजे तक पश्चिमी उपनगरों में 245 मिलीमीटर, पूर्वी उपनगरों में 186 मिलीमीटर और दक्षिण मुंबई में 126 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

POPULAR ON IBN7.IN