दाऊद के भाई इकबाल कासकर को हिरासत में लिया गया, जबरन वसूली के मामले में हुई कार्रवाई

मुंबई: अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को जबरन वसूली के मामले में हिरासत में लिया गया है. ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने कार्रवाई को अंजाम दिया है. पुलिस ने इक़बाल के साथ 4 और लोगों को गिरफ्तार किया है. विवादों में रहे एन्काउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने इक़बाल कासकर को मुंबई के नागपाड़ा इलाके से गिरफ्तार किया.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक इक़बाल पर अपने भाई के नाम से जबरन वसूली करने का आरोप है. ठाणे, उल्हासनगर और डोम्बिवली के बिल्डरों से जबरन वसूली की खबरें आ रही थीं. उन्ही में से एक बिल्डर ने सीधे ठाणे पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह से शिकायत की जिसके बाद ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने जांच कर कार्रवाई की है.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक पुलिस के हाथ इक़बाल कासकर के खिलाफ फोन पर धमकाने का ऑडियो भी लगा है. कल इक़बाल कासकर और बाकी के आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा. इक़बाल कासकर और उसके साथियों ओर मकोका के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है.

यह पहला मौका नहीं जब इकबाल को वसूली के मामले में गिरफ्तार किया गया हो. 3 फरवरी 2015 को मुंबई पुलिस ने मो. सलीम शेख नाम के एस्टेट एजेंट ने तीन लाख रुपये हफ्ता मांगने और पिटाई करने के आरोप में गिरफ्तार किया था.

दाऊद के भाई इकबाल कासकर को 2003 में दुबई से प्रत्यार्पित किया गया था. आने के बाद उस पर सारा सहारा मामले मे मुकदमा चला, लेकिन सबूत की कमी की वजह से वह बरी हो गया था.

इससे पहले, इकबाल कासकर पर 2011 में जानलेवा हमला हुआ था.. फायरिंग में इकबाल के ड्राइवर की मौत हो गई थी. दो हमलावरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. इनके पास विदेशी हथियार थे.

हमलावरों ने कई राउंड फायरिंग की. फायरिंग दक्षिण मुंबई के दो टाकी इलाके में हुई थी.

POPULAR ON IBN7.IN