महाराष्ट्र में एक ही परिवार के साथ दोहरा हादसा

धुले:  यहां एक परिवार को रविवार को दोहरे हादसे का सामना करना पड़ा। एक परिवार के युवक ने आत्महत्या कर ली थी। परिवार के लोग उसके शव को लेकर देर रात एंबुलेंस से जा रहे थे, तभी जिले के सोनदाले गांव के पास एक ट्रक ने एंबुलेंस को धक्का मार दिया जिससे युवक के तीन रिश्तेदारों की मौत हो गई। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। धुले पुलिस के अधिकारी हिम्मतराव महाले के अनुसार, "एंबुलेंस आदर्श पॉलिटेक्निक कॉलेज के 21 वर्षीय छात्र प्रशांत डी. पराडके का शव लेकर जा रही थी। उसने शहर के देवपुर क्षेत्र स्थित अपने घर में शनिवार की सुबह फांसी लगा ली थी।"

उसकी मौत की खबर सुनकर शोक संतप्त मां, चाचा और अन्य रिश्तेदार धुले पहुंचे। वे शव के अंत्यपरीक्षण के बाद की अन्य औपचारिकताएं पूरी कर शव को दाह संस्कार के लिए पास के नंदूरबार जिला स्थित कुंडल गांव ले जाने के लिए आए थे।

महाले ने आईएएनएस से कहा, "रविवार देर रात जब रिश्तेदार एंबुलेंस में शव को लेकर कुंडल गांव की ओर जा रही थी। तभी विपरीत दिशा से आ रहे गन्ना लदे ट्रक ने सोनदाले के पास उसे सामने से टक्कर मार दी।"

इस टक्कर से एंबुलेंस लोहे के एक ढेर में बदल गई। दुर्घटना में तीन लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए।

इस भयानक हादसे में मरने वालों में मृत युवक की मां मंगला (47), चाचा उत्तर पराडके (40) और चाची गुंदरबाई पराडके (55) शामिल हैं।

एंबुलेंस चालक गोरख प्रह्लाद अहीर और दो अन्य मिथुन पराडके (25) और दीपक वासवे (20) गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इन सभी को धुले के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

महाले ने बताया कि धुले पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

POPULAR ON IBN7.IN