मुंबई के नजदीक लूटेरों ने चाकू की नोट पर लूटी ट्रेन

तेरह लूटेरों की एक गैंग ने लोकमान्य तिलक टर्मिनल-पाटलीपुत्रा सुपरफास्ट एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे 50 पैसेंजर्स को चाकू की नोंक पर लूट लिया और चेन पुलिंग कर फरार हो गए। लूटेरों ने इस घटना को मुंबई के कल्याण और इगतपुरी स्टेशन के बीच अंजाम दिया। ‘द टाइम्स आॅफ इंडिया’ में छपी रिपोर्ट के मुताबिक लूटेरों मंगलवार भोर में इस घना को अंजाम दिया जब यात्री सो रहे थे।

लूट के बाद जगे जीआरपी अधिकारियों ने लूटेरों को पकड़ने के लिए तीन टीमों का गठन किया है। जीआरपी अधिकारियों ने मीडिया से बातचीत में बताया कि 20 की उम्र के करीब 13 लूटेरों ने एलटीटी-पाटलीपुत्रा एक्सप्रेस के जनरल कम्पार्टमेंट में मंगलवार आधी रात के बाद करीब 12 बजकर 40 मिनट पर धावा बोला और 50 यात्रियों को चाकू दिखाकर लूट लिया। उन्होंने जनरल डिब्बे में सवार यात्रियों को धमकाया और कुछ को प्रताड़ित भी किया। लूटेरों ने यात्रियों के मोबाइल फोंस, कैश और अन्य सामान लूट लिया।

लूटेरों ने खड़दी स्टेशन के नज़दीक ट्रेन की चेन पुलिंग कर उसे रोक दिया और फरार हो गए। ट्रेन में उपस्थित सुरक्षा बलों को इसकी भनक तक नहीं लगी और लुटने के बाद यात्रियों ने ही ट्रेन के गॉर्ड को इसकी जानकारी दी। कल्याण जीआरपी के सीनियर इंस्पेक्टर दत्ता पेबल ने ‘द टाइम्स आॅफ इंडिया’ से बातचीत में बताया, ‘हमने इस घटना की छानबीन के लिए तीन टीमों का गठन किया है और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गुनहगारों की छानबीन की जा रही है। हम लूटेरों को जल्द ही पकड़ लेंगे।’

जनरल डिब्बे में सवार अधिकतर यात्री दिहाड़ी मजदूर थे और उनके पास मोबाइल फोन, थोड़ बहुत कैश और कुछ अन्य सामान मौजूद था। गौरतलब है कि भारतीय रेवले में आरक्षित बोगियों के लिए सुरक्षा के इंतजाम तो होते हैं, लेकिन जनरल डिब्बे में सुरक्षा न के बराबर होती है। लूटेरों ने इस कमीं को भंपते हुए जनरल डिब्बे पर ही अपना हाथ साफ किया और ट्रेन में मौजूद सुरक्षा बलों को इसकी भनक भी नहीं लगने दी।

POPULAR ON IBN7.IN