चांडी का इस्तीफे से इंकार

तिरुवनंतपुरम: 'सोलर पैनल घोटाले' में विपक्षी वामदलों और मीडिया के दोहरे हमलों का निशाना बने केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने बुधवार को कहा कि वह इस्तीफा नहीं देंगे। चांडी ने कहा, "मैं न्यायपालिका का सबसे अधिक सम्मान करता हूं और दूसरों से भिन्न जब यह मेरे पक्ष में नहीं होती है तब भी। मीडिया मुझे माफ करे, यदि वह मेरा इस्तीफा चाहती है तो वह मैं नहीं देने जा रहा हूं।"

केरल सरकार ने सरिता एस. नायर और उसके लिव-इन पार्टनर बिजु राधाकृष्णन द्वारा की गई धोखाधड़ी के मामले की जांच का आदेश दिया है। वे दोनों इस समय जेल में है। इन दोनों ने रियायती दर पर लोगों को सोलर पैनल उपलब्ध कराने के नाम पर ठगी की।

टेलीफोन कॉल रिकार्ड से पता चला कि नायर मुख्यमंत्री के निजी स्टॉफ के कर्मचारियों से सीधे संपर्क में थी। मुख्यमंत्री के स्टॉफ के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है और दो को बर्खास्त कर दिया गया है।

मंगलवार को विपक्षी वामदलों और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने चांडी के इस्तीफे की मांग पर जोर डाला। अपनी मांग के समर्थन में इन्होंने चांडी के खिलाफ राज्य उच्च न्यायालय की कड़ी टिप्पणी का हवाला दिया।

चांडी ने इस आरोप से इंकार करते हुए कहा कि अभियोजन महानिदेशक मौके पर मौजूद थे और न्यायालय ने ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की।

उधर वामदलों ने चांडी के इस्तीफे की मांग के लिए सभी 13 जिला मुख्यालयों और राज्य सचिवालय पर अनिश्चितकालीन विरोध प्रदर्शन शुरू किया है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN