एसटीपीआई योजना की बहाली चाहते हैं चांडी

तिरूवनंतपुरम: केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से आग्रह किया है कि देश में छोटी और मझोली आईटी कंपनियों को मदद करने के लिए सॉफ्टवेयर टेक्न ोलॉजी पार्क्‍स ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) योजना को बहाल किया जाए। प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में चांडी ने कहा कि सरकार को कम से कम द्वितीय और तृतीय श्रेणी के शहरों के लिए इस योजना को मौजूदा वित्त वर्ष से पांच वर्ष के लिए लागू करना चाहिए।

पिछले सप्ताह आईटी उद्योग के प्रतिनिधियों से मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने यह पत्र प्रधानमंत्री को भेजा। आईटी उद्योग के संगठन जीटीईसीएच ने चांडी को बताया कि योजना को खत्म करने से छोटी और मझोली कंपनियां सबसे अधिक प्रभावित हुई हैं।

जीटीईसीएच के अध्यक्ष वी.के. मैथ्यूज ने कहा कि इस एक कदम से भारत सरकार छोटी और मझोली आईटी कंपनियों को नया जीवन दे सकती है। आईटी उद्योग निजी क्षेत्र में देश का सबसे बड़ा रोजगार देने वाला उद्योग है। इस उद्योग ने 30 लाख लोगों को सीधे तौर पर और परोक्ष तौर पर 95 लाख लोगों को रोजगार दिया है। इस एक कदम से न केवल अधिक रोजगार पैदा होगा वरन बड़े शहरों पर से बोझा भी घटेगा।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN